CAA प्रो’टेस्ट : फिल्म स्टार भी पहुँचे महिलाओं का समर्थन करने मुंबई बाग, कही ये बात

फ़िल्म डॉयरेक्टर अनुराग कश्यप बीते दिनों से सुर्खियों में चल रहे है । अनुराग कश्यप ने लगातर ट्विटर पर नाग’रिकता कानू’न के विरो’ध में ट्वीट कर लगातार सुर्खिया में रह रहे है । अब कश्यप ट्वीटर से हटकर ना’गरि’कता कानू’न के विरोध में चल रहे प्रो’टेस्ट में हिस्सा लेने पहुँचे तो हर कोई हैरान था । बता दे, पिछले कुछ समय से देश भर में सीए ए और एनआरसी का जब’रदस्त वि’रोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है ।

सीए ए के खिला’फ वो अनुराग कश्यप मुम्बई प्रोटे’स्ट में नजर भी आए तो बॉलीवुड जगत से लेकर हर कोई हैरान था । बता दे, 15 दिसम्बर को जामिया में हुए प्रद’र्शन स्थ’ल पर हिं’सा के बाद से ही अनुराग कश्यप सोशल मीडिया पर लगातार जामिया के स्टूडेंट के समर्थन में लगातार लिख रहे थे । उसके बाद से ही वो मोदी सर’कार को लगातार कई मु’द्दों पर घेर रहे है। दिल्ली की शाही’नबाग की तर्ज पर मुम्बई बाग में भी महिला’ए सीए ए और एनआरसी का वि’रोध कर रही है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि आज मैं मुम्बई बाग गया था, नवापाड़ा में शाहीन’बाग की तरह ही बहुत सारी बहने, मां, औरते बैठी हुई है। वो सिर्फ अपने हक की लड़ाई ल’ड़ने के लिए बैठी हुई है। आइये इनके साथ खड़े हो उनका हौसला बढ़ाए.उन्होंने अपनी स्पीच में कहा कि ये संघर्ष लम्बा है। ये सरकार उम्मीद कर रही है कि आप उम्मीद खो दे लेकिन आपको उम्मीद नही खो’नी है ।

बता दे, बॉलीवड का एक धड़ा जिसमें डॉयरेक्टर , प्रोड्यूसर , एक्टर से लेकर सिंगर इस नाग’रिकता कानू’न के विरो’ध में लगातार विरो’ध प्रदर्शन कर रहे है । बता दे, इस कानून के विरोध में बॉलीवुड की नामी हस्तियां स्वरा भास्कर, फरहान अख्तर , दीपिका और ऐजाज़ खान लगातर विरो’ध प्रदर्शन कर अपना विरो’ध दर्ज करा रहे है ।

बता दे, जा’मिया में 15 दिसम्बर का आसपास हुई घटना के बाद एकाएक बॉलीवुड की नहीं बल्कि नामी सोशल एक्टिविस्ट , नेता सामने आए थे जिन्होने छा’त्रों के स’मर्थन में रैलियां की थी और अभी भी सो’शल।मीडिया सहित मैं जगहों पर प्रदर्शन कर रहे है और जा रहे है । बता दे, नागरि’कता कानून का वि’रोध देश के अलग अलग हिस्सों में शा’हीन बाग की त’र्ज पर चल रहा है ।

इसमें पश्चिम बंगाल, केरल , दिल्ली, राजस्थान, एमपी , गुजरात से लेकर कई राज्यों की राजधानी सहित कई जिलों में प्रो’टेस्ट चल रहा है । शहीन बाग में बैठी महिलाओं ने एनडीटीवी से कहा था कि वो जब तक यहां बैठी रहेगी तब तक इस का’नून को वापस नही लिया जाता है ।

Leave a Comment

close