दुबई की राजकुमारी ने ओवैसी भाईयें के बारे में पूछा ये सवाल,सोशल मिडिया पर हो रही चर्चा, देखिए

लॉ’क डा’उन लगने के बाद मानों दुनिया के अधिकतर लोगों के समय सो’शल मी’डिया पर ही व्यतित हो रहा है । सोशल मीडिया आज दुनिया का सबसे बड़ा शक्तिशा’ली प्लेटफा’र्म बनता जा रहा है। क्योंकि यहां आवाज उ’ठाना और उसको दुनिया तक पहुचाना सबसे आसान काम है। यहां पर कम से कम समय मे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँचा जा सकता है । दुनिया के अधिकतर देशों के प्रमुख सितारे, राजनेता और खिलाड़ी सहित दूसरे सितारे में सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है ।

इन दिनों दुबई की राजकुमारी हिन्दा अल कासमी ट्विटर पर छाई हुई है और वो चर्चा में बनी हुई है।हैदराबाद के सांसद असउद्दीन ओवैसी के बारे में राजकुमारी ने पूछा है कि यह कौन है। सोशल मीडिया पर कई लोग दो समु’दायों के बीच नफरत फैलाने का काम करते है। कोरोना के चलते लोग शांति की अपील कर रही है। इसके अलावा भी कई मुस्लिम देशों के प्रिंस और प्रिंसेज भी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है उनका पता इस लॉक डाउन में पता लगा ।

प्रिंसेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करने की अपील की है। राजकुमारी ने ट्विट करते हुए लिखा है कि भारत में सभी लोग मिलजुलकर रहते है। जैसे ही आप एक बार उपयोग करते है, एकदूसरे को समझे। उन्होंने कहा कि क्या आप जानते है कि अमेरिका, यूरोप, और अरब में भारतीय अपने आप को सुरक्षित क्यो महसूस करते है?क्योंकि आपको नए सिरे से शुरुआत करने ,सफल होने और कमाने का अवसर मिलता है।राजकुमारी ने ट्विटर पर ओवैसी बंधुओ के बारे में सवाल करते हुए पूछा है कि who are the owaisi brothers?

 

जिसके बाद से सैकड़ों लोगों ने राजकुमारी को ओवैसी के बारे में बताया है, ओवैसी के लिए दिखाई हुई रुचि ट्विटर पर चर्चा का विषय बनी हुई है।राजकुमारी यूएई में पैदा हुई है और उनके पिता डॉक्टर जबकि उनकी माँ स्कूल में प्रिंसिपल थी।राजकुमारी ने आगे लिखा कि गाँधी जी सभी लोगो के अधिकारों के लिए आवाज़ बे’खोफ होकर उठाते थे ।उन्होंने लोगो के दिल और दिमाग को जीतने के लिए लगातर अ’हिं’सा को बढ़ावा दिया । गाँधीजी को फॉलो करती हूं मैं अब नफरत से निपटने के लिए ग़ांधी के शान्तिपूर्ण तरीको पर भरोसा करती हूं।

उन्होंने ट्वीट का करारा जवाब देते हुए रीट्वीट में लिखा है कि यूएई में इस तरह का व्य’वहार सहन नही किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि नफ’रत भरी भा’षण के खि’लाफ अभि’यान अभियान चलाने वाली राजकुमारी ने लिखा न’फर’त फै’ला’ने वाली बातें न’रसं’हार की शुरुआत है। महात्मा गांधी ने एक बार कहा था आँख के बदले आँख लेने से दुनिया अंधी ही जाएगी। हमें अपने खू’नी इतिहास से सबक लेना चाहिए। हमें इस बात को समझना होगा कि मौ’त से मौ’त पैदा होती है और प्यार से प्यार का जन्म होता है।

Leave a Comment

close