चार सऊदी यूनिवर्सिटीज को मिली टॉप रैंकिंग, अरब देशों में बना नंबर 1, शिक्षा में क्षेत्र में सऊदी छोड़ रहा अमेरिका, यूरोप जैसे देशों को पीछे

सऊदी अरब एक मु’स्लि’म देश है । सऊदी अरब में ऐसे तो हर चीज ही नि’राली है। सऊ’दी अरब ने हाल ही में हायर एजुकेश’न पत्रिका द्वारा प्रकाशित अरब यूनिवर्सिटी रैंकिंग में सऊदी अरब की 4 यूनिवर्सिटी को टॉप रैंकिंग भी मिल गई है। स’ऊदी अर’ब के जेद्दा के किंग अ’ब्दुलअजीज

विश्ववि’द्यालय को अरब की दुनि’या मे सर्वश्रे’ष्ठ स्थान मिला है। इसके अलावा कतर की यूनिव’र्सिटी को दूसरे स्थान मिला है । इनके अलावा धुवाल में किंग अब्दुल्ला विज्ञान और प्रौद्यो’गिकी विश्ववि’द्यालय को तीसरा स्थान हासिल हुआ है । अल खोबर में प्रिंस मोह’म्मद बिन

arab universities

फ़’हद यू’निवर्सिटी को चौथा स्थान मिला है। दह रान में किंग फ़हद पेट्रोलि’यम और खनिज यूनिव’र्सिटी को पांचवा स्थान मिला है।आपको बता दे कि किंग अब्दुल अजी’ज यूनिव’र्सिटी 1967 में स्थापित एक सार्वज’निक संस्थान है। इसके पहले पूर्व छा’त्रों में गल्फ वन इनवे’स्ट मेन्ट बैंक के संस्थापक

और सीईओ नाहेदताहेर और अल रहजी बैंक के मालिक सुलेमान अब्दुलअजीज अल रांझी भी शामिल है। इन यूनिव’र्सिटी में रैंकिंग को हासिल भी किया है। इस तरह के एक देश के प्रति शिक्षा का अभव भी उच्च देखा गया हैं। जो एक जागरुक देश के लिए भी बहुत ही ज्यादा जरूरी भी है।

arab universities

बताते चलें कि बीते दिनों ही सऊदी अरब ने मले’शिया देश ये लिए को’रो’ना वाय’रस से ब’चने के लिए चिकित्सा आपूर्ति की सहायता भी की है। मलेशिया में कोरोना की वजह से अब तक 7 हजार से अधिक लोगो की मौ’त हो गई है।

Leave a Comment