ओवैसी को बीजेपी एजेंट बोलने पर तेजस्वी को AIMIM नेता हसन ने दिया करारा जवाब, बोले – ओछी हरकत नहीं करें वरना …

झारखण्ड विधानसभा चुनाव जैसे जैसे आगे बढ़ रहा है वैसे वैसे नेताओ की बयानबाजी भी तीखी होती जा रही है । झारखण्ड विधानसभा चुनाव में इस बार सुर्खियों में आए है असदुद्दीन ओवैसी । बता दे, राजद पार्टी इस विधानसभा चुनाव में गठबंधन के साथ चुनाव मैदान में उतरी है । बीते 2 दिनों में झारखंड के बरहट्ट में तीन आम सभा को तेजस्वी यादव संबोधित कर चुके है । उन्होंने अपनी स्पीच में कहा कि भाजपा ने झारखंड विधानसभा चुनाव में महा गठबंधन के वोट बाटने के लिए कई एजेंटों को चुनावी मैदान में उतारा है ।

उन्होंने हैदराबाद के सांसद और आल इंडिया माजलिस इत्तेहाद उल मुस्लिमीन पार्टी असदुद्दीन ओवैसी के बगैर नाम लिए बड़ा आरोप लगाया है । उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग उनके वोट काटने के लिए इनसे उम्मीदवार खड़े करवाया है। आगे तेजस्वी ने कहा कि कुछ ही देर बाद उनके नेता आकर यहां पर बीजेपी को काफी गलत बोलेगेलेकिन उनका मैच फिक्स है ।

adil hasan

आल इंडिया मजलिस इत्तेहाद उल मुस्लिमीन पार्टी के बिहार युथ अध्यक्ष आदिल हसन आज़ाद ने तेजस्वी द्वारा ओवैसी की पार्टी को बीजेपी का एजेंट बोलने पर कड़ी फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ग़लतफ़हमी का शि’कार में नहीं रहे। सेक्युलरिज़म के अलंबडर सिर्फ तेजस्वी और उनकी पार्टी नहीं है। मीम नेता आदिल हसन ने साफ किया कि हैदराबाद के सांसद बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी सही मायने में सेक्युर है और पार्टी सेक्युलरिज्म निभा रही है।

आदिल हसन ने तेजस्वी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि 2015 के चुनाव में जब असदुद्दीन ओवैसी ने राजद के लिए प्रचार किया था तो वह क्या थे, यूपीए के साथ जब असदुद्दीन ओवैसी थे तो वह क्या थे ये तेजस्वी को एक बार विचार करना चाहिए। आदिल हसन ने तेजस्वी को चेताते हुए कहा कि उन्हें ऐसे ओछी हरकत नहीं करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि 2020 में तेजस्वी को जनता जरूर जवाब देगी।

इसके साथ ही हसन ने तेजस्वी यादव से सेक्युलरजिम का सर्टिफिकेट बांटने पर भी कड़ा ऐतराज़ किया। उन्होंने कहा अगर वो कांग्रेस की तरह ही गलती करते है तो जनता इसका भी जवाब देना जानती है। हसन ने कहा तेजस्वी को अहंकार नहीं करना चाहिए। असदुद्दीन ओवैसी दबे कुचले की आवाज है और वह 2020 बिहार विधानसभा चुनाव मजबूती से लड़ेंगे और सीमांचल को फ़तेह करेंगे।

तेजस्वी ने कहा आज सभी विपक्षी नेताओं को सरकार किसी न किसी तरह से परेशान कर रही है लेकिन ओवैसी पर कुछ नहीं कर रही है। तेजस्वी ने लोगो को समझते हुए कहा कि ये आपको समझना चाहिए । बता दे, ओवेसी ने इसी विधानसभा में एक रैली को तेजस्वी के बाद संबोधित किया था । तेजस्वी ने कहा कि बरहट्टा में बीजेपी ने 3 उम्मीदवार उतारे है, इनसे सबको सावधान रहना है ।

तेजस्वी जयनगर में पिपको चौक में रैली को संबोधित कर रहे थे,यहां से गठबंधन की ओर से खालिद को उम्मीदवार बनाया गया है । तेजस्वी ने आज पूरे झारखंड में बीजेपी का सीधा मुकाबला महागठबंधन से है। इन दोनों के बीच तीसरा कोई नही है , यदि तीसरा आपको कोई नज़र आ रहा है तो वह बीजेपी का एजेंट है । उन्होंने ये भी कहा चुनाव के बाद ये बीजेपी से जाकर मिल जायेंगे ।

आपको बता दे, तेजस्वी यादव ने बीते दिनों एक न्यूज चैनल में खुद को भावी बिहार के सीएम उम्मीदवार के तौर ओर इशारों इशारों में बताया था । तेजस्वी ने कहा था कि मुझे जो जिम्मेदारी मिली नेता प्रतिपक्ष की मैं उसे जिम्मेदारी ने निभाने की कोशिश में लगा हुआ हूं । इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा था कि पार्टी ने मुख्यमंत्री पद के लिए जो प्रस्ताव पारित किया था उसेभी देख थे है । बता दे, 11 वी बार राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव बने है ।

Leave a Comment

close