भोपाल अंतराष्ट्रीय इज्तिमे में लाखों तब्लीग़ी ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, वीडियो देखिये

इ’स्लाम ध’र्म में त’ब’लीग से तालु’क्क रखने वाले जिम्मेदार लोग हर साल इ’ज्तिमा करते है, म’स्जि’दों में रोज़ दीन की दावत देने जैसे अहम काम को अंजाम देते हेब। बता दे, त’ब’लीग ज’मात साल भर 24 घण्टे दीन का काम करने वाली ज’मात के तौर पर जानी जाती है । और इसी सिलसिले में हर महीने और हर साल में एक बार इ’ज्तिमा होता है। इ’ज्तिमा का मतलब होता है एक ध’र्मिक सम्मेलन है।

जहाँ पर धर्म की जानकारी देने के अलावा सामाजिक फैसले भी लिए जाते है। जैसे द’हे’ज प्र’था’ को बं’द किया जाए। इ’स्ला’म के अनुसार अपनी जिंदगी बितानी चाहिए। आपको बताने जा रहे है कि मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में होने वाले तब्ली’गी इ’ज्तिमा का हो गया है। यह इज्तिमा तीन दिन के लिए है। यह शुरू हुआ है जुमे की फ़जर की नमाज के बाद से। इस इ’ज्तिमा में लाखों लोग शामिल हुए है।

bhopal

इ’ज्तिमा कमेटी के प्रवक्ता ने कहा कि इस इ’ज्तिमा में सभी तैयारियां संयनसे पहले पूरी कर ली गई थी। ग्री’न इ’ज्तिमा के मद्देनजर पूरे स्टाइल्स को प्लास्टिक मुक्त रखा गया है। अगर कोई प्लास्टिक का इस्तेमाल करता हुआ पाया गया तो उसको गि’रफ्ता’र कर लिया जाएगा। बता दे कि भोपाल का इ’ज्तिमा दुनिया का तीसरा बड़ा इज्तिमा है। हमारे भारत के अलावा बांग्लादेश और पाकिस्तान का इज्तिमा है।

इस मे करीब 40 देशो से जमात आ रही है। इसमें पहली बार वियतनाम के जायरीन शिरकत करेंगे। इ’ज्तिमा क’मेटी ने बताया है कि कई देशों की जमाते भोपाल आ चुकी हैं। इज्तिमा में शिरकत करने वाले कम्बोडिया, श्रीलंका, वियतनाम, इंडोनेशिया, इंग्लैंड, थाईलैंड, रूस सहित एक दर्जन देशो की जमाते भोपाल पहुंच चुकी है। भारत पाक के बीच बि’गड़े रि’श्तों के चलते इस बार पा’किस्तानी जमा’तों की आ’मद न’ही हो पाई हैं।

रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन पर इंतेजाम भी किए गए है। इस बार इज्तिमा मे करीब 15 लाख ज’मातियों के पहुचने की संभावना है। इन लोगो के आं’कलन के रजि’स्ट्रेशन की व्यव’स्था भी की गई है। सभी जमातियों ने पाचो वक्त की नमाज अदा की है। कमेटी ने इसके लिए वक्त मुकर्रर भी किया है। हम आपको इस इज़्तिमे कि एक वीडियो भी शेयर कर रहे है । आप ज्यादा से ज्यादा इस वीडियो और पोस्ट को शेयर करें ।

Leave a Comment

close