बिहार में ओवैसी की पार्टी में जाएंगे पूर्व केंद्रीय मंत्री, AIMIM नेता आदिल हसन बोले- हम बिहार विधानसभा में …

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के नेताओ के एक दल से दूसरे दल में जाने की प्रकिर्या तेज हो गई है। बता दे बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव ने इससे पहले की सभी दल तैयारी में जुट गए है। बीते महीने हैदराबाद के सांसद और ऑल इण्डिया मजलिस ए एतेहादुल मुस्लेमीन पार्टी के अध्यक्ष असुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने बिहार चुनाव में सभी को चोकते हुए किशनगंज से जीत दर्ज की थी।

Aimim पार्टी को बिहार से नुरूलहुदा के रूप में पहला विधायक मिला था। बता दे नुरूलहुदा ने बिहार विधानसभा के बाहर बिहार पार्टी अध्यक्ष अख्तरुल ईमान, बिहार यूथ अध्यक्ष आदिल हुसैन आजाद और अपने समर्थकों के साथ पार्टी जिंदाबाद और अल्लाहु अकबर के नारे लगाने के लिए भी सुर्खियों में आए थे। बता दे Aimim पार्टी ने बीते विधानसभा चुनाव में हिस्सा लिया था।

वह एक भी सीट नही निकाल पाए थे लेकिन उनके कुछ केन्डिडेड ने बेहतरीन प्रदर्शन कर लोकसभा 2019 चुनाव के लिए नींव तैयार कर दी थी। बता दे 2019 के लोकसभा चुनाव में बिहार के किशनगंज लोकसभा क्षेत्र से बिहार Aimim पार्टी अध्यक्ष और पूर्व विधायक अख्तरुल ईमान ने अपना उम्मीदवार बनाया था। अख्तरुल ईमान ने सभी को चोकते हिई किशनगंज लोकसभा की 2 विधानसभा में भारी बढ़त बनाई थी।

यहां से 2 विधनसभा में Aimim पार्टी पहले नम्बर पर रही थी जबकि एक विधानसभा में दूसरे पायदान पर रही थी। 2019 लोकसभा चुनाव से ही लगने लगा था कि Aimim पार्टी आने वाले चुनाव में यहां से अपना खाता खोल सकती है। राजनीतिक पंडितों को हैरान करते हुए किशनगंज उपचुनाव में Aimim पार्टी ने नुरूलहुदा को अपना उम्मीदवार बनाया और जीत दर्ज की। बता दे, बिहार में aimim पार्टी की पहली जीत का श्रेय बिहार aimim अध्यक्ष और aimim पार्टी के तेजतर्रार युवा नेता आदिल हसन आज़ाद को जाता है ।

आदिल हसन आज़ाद ने कहा कि वो आने वाले विधानसभा चुनाव में मजबूती से लड़ेंगे । उन्होंने आगे कहा कि पार्टी सदर के बाद ही निर्णय लिया जाएगा कि चुनाव कौन कौनसी विधानसभा सीट से लड़ा जाएगा । आदिल हसन आज़ाद ने नागरिकता कानून पर भी अपनी बात रखते हुए कहा कि वो इस कानून के विरोध में शुरू दिन से लोगों को समझा रहे है और वो आने वाले दिनों में पूरे बिहार में संविधान बचाओ की रैली भी करेगे ।

बता दे बीते दिनों पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने भी ओवैसी के साथ चुनाव लड़ने की खबरों ने भी जोर पकड़ा था। अब इसी तरह एक ओर बड़ी खबर सामने आरही है। पूर्व केंद्र मंत्री नागमणि ने एक बड़ा ऐलान किया है। नागमणि ने कहा है कि वो असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में शामिल होंगे।इसके बाद उन्होंने दावा किया है कि देवेंद्र यादव और पूर्णमासी राम जैसे नेताओं से बात हो चुकी है।

यह दोनों नेता भी Aimim की पार्टी में जल्द ही शामिल होने वाले है। नागमणि के Aimim में शामिल होने के बाद आरएलएसपी के प्रधान महासचिव माधव आनन्द ने कहा कि ऐसी कोई पार्टी नही है जहाँ पर नागमणि नही गए हो और उन्हें वहां से नही निकाला गया हो। उन्होंने कहा कि ओवैसी की पार्टी से भी इनको दो चार बार निकाल दिया जाएगा। बता दे कि न्यूज 18 के सामने अपनी बात रखते हुए नागमणि ने बयान देते हुए कहा कि नीतीश और लालू को जनता 15-15 साल देख चुकी है। अब ये लोग हेमा मालनी नही है कि बिहार की जनता इन्हें देखती रहे।

Leave a Comment

close