वीडियो: CAA पर अ’नोखा वि’रोध प्र’दर्शन, कां’ग्रेस नेता कब्रि’स्तान प’हुँचकर पू’र्वजों की क’ब्र से बोले – उ’ठकर हमारे भार’तीय होने का सु’बूत दो

CAA यानी ना’गरिकता सं’शोधन का’नून को लेकर देशभर में विरो’ध प्रद’र्शन देखने को मिल रहा है। गौरतलब है कि इस कानून को बने हुए 1 महीने से ज्यादा हो गया और लगभग तब से ही देश के हर हिस्से में वि’रोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है । इस कानून का विरो’ध दिनो दिन बढ़’ता जा रहा है। इस का’नून को लागू होने के बाद से कई श”हर हिं’सा की च’पेट में भी आए थे। लेकिन अधिकतर जगह पर वि’रोध प्रद’र्शन शां’ति पू’र्वक चल रहा है ।

इसी बीच उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में कांग्रेस के एक कार्यकर्ता हसीब अहमद ने सी’एए का वि’रोध अजीब तरह से किया । वह इस कानून का विरो’ध करने के लिए कब्रि’स्तान पहुँच गए। उनको एक विडियो में देखा जा सकता जो उन्होंने अपनी फेसबुक वॉल पर post किया है। वह कब्रि’स्तान में पहले अपने पूर्व’जों की क’ब्र के पास इस कानून से सम्बं’धित जानकारी देते है । फिर वह देखते ही देखते अपने पूर्वजों की क’ब्रो के पास खड़े होकर रोने लग जाते है ।

इसी दौरान पास खड़ा शख्श उनके पास आकर उन्हें दिलासा दिलाता है कि वो घब’राए नहीं । बता दे, कांग्रेस नेता का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है। कांग्रेस नेता ने कहा हम अपनी पूर्वजों की कब्रो पर आए है क्योंकि हमारे पास दिखाने के लिए कोई दस्ता’वेज नही है। उन्होंने कहा हम अपने पूर्वजो से कहते है कि वो क”ब्रो में से उठे और गवाही दे।

यदि हम लोगों को डि’टेंशन के’म्पों में रखा जाएगा तो हमारे पूर्वजों को भी निकाले और उन्हें भी हमारे साथ ही भेजा जाए। यह कार्यकर्ता के साथ और अन्य लोग भी मौजूद थे। एक अन्य व्यक्ति ने हसी’ब से आकर कहा कि चुप हो जाओ मेरे भाई, इस मुल्क की न्याय’पालिका और सं’विधान पर हम सबको भरोसा है। का’नून पर हमारी जीत जरूर होगी। यह वीडियो वायरल हो गया है और लोग तरह तरह की टिप्प’णिया कर रहे है।

जहां एक तरफ इस कानू’न से लोग ड’रे हुए है, उनको नागरि’कता नही मिलेंगी। इसलिए लोग सड़कों पर उत’रकर वि’रोध करने में लगे हुए है।आपको बता दे, नाग’रिकता का’नून का वि’रोध देश के अधिकतर हि’स्सों में फै’ल चुका है । दिल्ली में जहा 10 से अधिक जगहों पर प्र’दशन’कारी लगा’तार 24 घंटे प्रदर्श’न कर रहे है तो वही राजस्थान, एमपी, यूपी, झारखंड, पश्चिम बंगाल में सहित कई राज्यों में लोग लगा’तार प्रद’र्शन कर इस का’नून को वापस लेने के लिए कह रहे है ।

close