मायावती बोली- SP को हराने के लिए BJP को भी दे सकते है वोट, BSP ने 7 बागी विधायकों को ….

यूपी में राज्यसभा चुनाव को लेकर मचे घमासान के बीच बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने सात बागी विधायकों को बहुजन समाज पार्टी से बाहर कर दिया है । इन विधायकों पर पार्टी के राज्यसभा उम्मीदवार के खिलाफ़ बगावत करने का आरोप है . विधायक दल के नेता लालजी वर्मा ने इस सम्बंध में अपनी एक रिपोर्ट मायावती को सौपी है । बहुजन समाज पार्टीप्रमुख मायावती ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम अभी तक तक किसी दूसरे दल से नहीं मिले है ।

उन्होंने कहा कि हम पर लगे सभी आरोप गलत है । मायावती ने समाजवादी पार्टी पर बड़ा ह’मला बोला । मायावती ने कहा कि 1995 में गेस्ट हाउस कांड का मुकदमा वापस लेना बड़ी गलती थी। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के बजाय अखिलेश यादव मुकदमा वापस कराने में लगे हुए थे । मायावती ने एक के बाद समाजवादी पार्टी पर ताबड़तोड़ हमले करते हुए मुलायम सिंह यादव पर बड़ा ह’म’ला बोला ।

BSP news

उन्होंने कहा कि 2003 में बसपा को तोड़ने पर उनकी बुरी गति हुई थी । अब पिता मुलायम की तरह उ के बेटे अखिलेश ये काम कर रहे है । मायावती ने कहा कि सपा परिवार में अंदर लड़ाई चल रही है,जिसके कारण उनका गठबंधन कामयाब नही हुआ । बहुजन समाज पार्टी प्रमुख ने दोहराया कि सपा से उनका गठबंधन एक बड़ी गलती थी ।

बहुजन समाज पार्टीने पार्टी से 7 बागी विधायकों को निलंबित कर दिया है । बागी विधायकों की सदस्यता रद्द की जाएगी ।। उन्होंने कहा कि ये षड्यंत्र कामयाब नही होगा । मायावती ने एमएलसी के चुनाव में सपा को जवाब देगी । मायावती ने आगे कहा कि वो समाजवादी पार्टी को हराने के लिए पूरी ताकत लगा देगी । चाहे बहुजन समाज पार्टी के विधायकों को बीजेपी  ( भारतीय जनता पार्टी) समेत किसी भी विरोधी पार्टी के उम्मीदवार को ही वोट क्यो न देने पड़ जाए ।

mayawati

बहुजन समाज पार्टी के 7 बागी विधायक है । असलम राइन (भिनगा, शावस्त्री) , असलम अली ( ढोलाना, हापुड़ ) , मुजतबा सिद्दीकी ( प्रतापगढ, इलाहाबाद ) , हाकिम लाल ( हंडिया, प्रयागराज) , हरगोविंद भार्गव ( सिंधौली, सीतापुर) , सुषमा पटेल ( मुंगरा, बादशाहपुर), वंदना सिंह ( सगड़ी, आजमगढ़) ।

Leave a Comment