दिल्ली: मुस्तफाबाद में अकेला था हि’न्दू परिवार, मु’स्लिमों ने शिव मंदिर और परिवार की हिफाज़त कर पेश की मिसाल

ना’गरिकता संशो’धन का’नून को लेकर दिनों दिन विरो’ध बढ़ता जा रहा है। लेकिन बीते दिनों दिल्ली में हुई घट’ना ने लोगों को झंझो’र दिया है । इस घटना की जो तस्वीर सामने आई वो भया’वह है । इस घट’ना के बाद कई गलि’यां वीरान है तो बड़ी तादाद में मकान, दुकान और धा’र्मिक स्थलों पर आ’गजनी की गई है ।दिल्ली के उत्तर पूर्व इलाको में हुई बीते दिनों की घटना ने सभी को हैरा’न कर दिया है।

एक तरफ हि’न्दू है तो दूसरी तरफ मुस’लमान । इस घटना के बाद आई सामने की तस्वीर से हर कोई हैरान है, दुःखी है और द’र्द में है । दिल्ली हिं’सा के बीच इंसा’नियत भी देखने को मिली ,जो इस समाज का हिस्सा भी है । हि’न्दू ने कई मुस’लमानों को बचाया तो वही मुस’लमानों ने हिंदु’ओ की र’क्षा की । किसी ने इस हिं’सा से ब’चने और बचा’ने के लिए इंसा’नियत और भा’ईचारा कायम रखा है।

delhi violence

एक मु’स्लिम युवक ने तिहारा के चमन पार्क स्थित शि’व मंदि’र को बचाया है। इस शख्स का नाम मोह’म्मद शकील है। 25 फरवरी को जब हिं’सा हो रही थी तब इन्होंने स्थानीय लोगो के साथ मिलकर शि’व मं’दिर की रक्षा की। उपद्रवियों को इनके आस पास भी नही आने दिया। श’कील न्यूज 18इंडिया से बात करते हुए बताया है कि उप’द्र’वी तो’ड़ फो’ड़ के इरा’दे से उनके क्षेत्र में आए थे।

तो वहां के कुछ लोग तो म’न्दिर की तरफ गए और कुछ लोग म’स्जिद की तरफ गए।उन्होंने कहा कि उप’द्र’वी पहले म’स्जिद की बढ़ रहे थे लेकिन हमने उनको ना ही म’स्जि’द की तरफ जाने दिया और ना ही शिव मं’दिर की तरफ।शकील ने आगे बताया है कि वो 72 घण्टो से भी ज्यादा हो गए है उनकी आंख भी नही लगी है। वही मीडिया से बात करते हुए शिव बिहार निवासी राम’सेव’क ने बताया है कि मैं यहां पर 35 सालो से रह रहा हु।

  delhi violence

इस इलाके में सिर्फ एक या दो हि’न्दू परि’वार रहते है। मे कभी भी परेशानी नही हुई है। हिं’सा के समय मेरे मु’स्लि’म भाइयो ने मुझसे कहा कि अं’कल आप आ’राम से सो जाइए । आपको कोई नुक’सान नही होगा। अब तक मर’ने वालो की संख्या 42 हो गई है। 250 से ज्यादा लोग ‘घा’यल है।पुलिस सूत्रों ने बताया है कि फिलहाल हालात शांति’पूर्ण है। पुलिस का फ्लै’गमार्च जारी है। पु’लिस का ये कहना है कि वो बाहरी लोगों की जां’च कर रही है।

Leave a Comment

close