डाॅक्टर जोशी की हुई कोरोना से मौत, तब्लीग जमात के लोगों ने किया अंतिम संस्कार, फोटो हुई वायरल

को’रो’ना महा’मा’री के बीच लोक डाउन में जिन तब्ली’गी’यो जमा’त के ऊपर सं’क्र’म’ण फै”ला’ने का आ’रो’प लगातार लगता रहा है आज वही जमात राज्यो में मदद करने के अलावा भी अंतिम सं’स्कार क’रा रही है।बता दे, पिछले दिनों महाराष्ट्र , दिल्ली और पटना की एक अदाल’त ने त’ब्ली’गी’यो पर लगे आ’रो’प को बे’बुनि’याद बताते हुए कहा था कि उन्हें बलि का ब’करा बनाया गया है । कोरो’ना के बीच ऐसे कई माम’ले सामने आए है

जिन्होंने अपने ही परिवार के लोगो का अंति’म सं’स्का’र क’रवाने से ‘म’ना कर दिया और किसी दूसरे ध’र्म के लोगो ने ऐसा किया है। देश मे और हर राज्यो में जिस तरह से मु’स्लि’म स’मु’दा’य के लोगो को निशाना बनाया जाता है ठीक उसके वि’प’क्ष ही मु’स्लि’म समुदाए के लोग नई नई मिसाल पेश करते रहते है।महाराष्ट्र में पुणे जिले से भी को’रो’ना म’हा’मा’री से संक्र’मि’त डॉक्टर की मौ’त हो गई।

dr joshi news

जिसके बाद उनका अंति’म स’स्कार करवाने के लिए कोई भी तैयार नही हुआ।ऐसे में त’ब्लीगी जमात के लोगो ने आगे आकर शव का अंतिम संस्का’र करवाया है।जानकारी के मुताबिक, डॉ र’मा’कांत जो’शी के परिवार में सिर्फ एक ही लड़का है। वो भी अमेरिका में रहता है। जोशी के पत्नी की उम्र 74 साल है। उनका कहना था कि उनका शव 4 कंधों पर उनकी यात्रा जाए। कोरो’ना की वजह से कोई भी परिज’न उनके पास आने से म’ना कर दिया।

ऐसे वक्त में जब यह घटना की बात तब्ली’गी जमा’त के लोगो के पास पहुची तो उन्होंने न केवल सारी व्यवस्था की बल्कि श’व को श्म’शा’न भूमि पर ले जाकर अंति’म सं’स्कार भी करवाया है।इस घटना को लेकर लेखक राजेंद्र पवार ने कहा है कि मु’स्लि’म समाज को बु’रा समझा जाता है लेकिन आप एक बार मुसल’मानों के प्रति स्नेह दिखा के देखो वे आपके लिए आपको अपना जीवन भी दे देंगे।

dr joshi news

मु’स्लिम समाज केलोगों को बुरा माना जाता है लेकिन को’रो’ना में सबसे अधिक मदद के लिए दौड़ा वो मुस्लि’म स’मुदाय ही है। बता दे कि कोरो’ना के दौरन तब’लीग जमात से जुड़े कई लोगो ने प्लाज्मा थैरेपी भी दान दिया था। इसे लेकर भी त’बलीग जमा’त के लोग सुर्खियों में बने हुए थे।

Leave a Comment