डॉ. नशीमान अशरफ: SERB-POWER में फेलोशिप हासिल करने वाली पहली कश्मीरी महिला

आज के दौर में महिलाएं हर देश मे आगे बढ़ रही है। यह दौर महिलाओ के लिए सुनहरा दौर है जिसमें पुरुष और महिलाओ को तुलना की बगैर उनको सभी तरह के क्षेत्र में आगे बढ़ाया जा रहा है।हाल ही में कश्मीर की रहने वाली महिला वैज्ञानिक ने

अपनी जींवन विज्ञान में प्रतिष्ठित विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड फेलोशिप अर्जित करके पुरुष प्रधान एसटीइएम क्षेत्र के कई रिकॉर्ड को तो’ड़ दिया है।आवाज दी वाइस की एक रिपोर्ट के मुताबिक बता दे कि डॉक्टर नशीमन अशरफ एसई आरबी पावर

फेलोशिप 2022 को हाज़िल करने वाली कश्मीर की पहलीं मुस्लिम महिला बनी है। यह विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार में भारतीय महिला शोधकर्ताओं को शसक्त बनाने की एक महत्वपूर्ण पहल की है। इससे पहले उन्हें अमेरिका के केंटकी यूनिवर्सिटी में विजिटिंग

साइंटिस्ट के रूप में काम करना के लिए सीएस आई आर रमन रिसेच फेलोशिप और स्पेन में काम करने के लिए ईएमबीओ शार्ट टर्म फेलोशिप से सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने कहा है कि महिलाओ को खुद पर विश्वास करने और अपनी सीमाओं को आगे बढ़ाने की जरूरत है। इसके बाद वो सब कुछ हासिल कर सकती है।

श्रीनगर के पुराने शहर में जन्मी और पली बढ़ी डॉक्टर नशीमन ने बचपन से ही अलग अलग चीज़ों कोआजमाने की आदत विकसित के लि है। वह बताती है कि मैंने जो भी ज्ञान को हासिल किया है उसे दुसरो के साथ साझा करने की मैंने कोशिश की है।

Leave a Comment

close