फ्रांस के राष्ट्रपति बयान से पलटे- पैगम्बर मोहम्मद ( स.अ.व.) पर मैं मुसलमानों की भावनाएं समझता हूँ, मेरे बयान को ….

फ्रांस में पैगं’बर मोह’म्मद स’ल्लाहु अ’लैहि व’सल्लम के अप’मा’न को लेकर उ’ठा विवा’द थम’ने का नाम नही ले रहा है । इसके साथ फ्रांस के राष्ट्र’पति मेक्रो’न द्वारा इस्ला’म के खि’लाफ की गई टिप्पणी के बाद फ़्रांसिसी राष्ट्र’पति का मु’स्लिम जगत में भारी वि’रोध का सामना करना पड़ रहा है । इस बीच फ़्रांसि’सी राष्ट्र’पति का बड़ा बयान सामने आया है ।

हालांकि फ़्रांसिसी राष्ट्रपति मेक्रोन ने अपनी बात मु’स्लि’म स’मुदाय तक पहुचाने के लिए कतर के टीवी चैनल अल जजीरा को साक्षात्कार दिया । उन्होंने कहा कि वह समझते है कि पैग’म्बर मो’हम्मद स’ल्लाहु अ’लैहि वस’ल्लम के का’र्टून से दुनिया भर के मुस्लि’मों को ध’क्का लगा । आगे उन्होंने कहा कि लेकिन हिं’सा को स्वी’कार न’ही किया जा सकता है ।

france president Emmanuel Macron
france president Emmanuel Macron

वही फ्रांस की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार फ्रांस के अधिकारी इस बात की जानकारी जुटा’ने में लगे है कि नीस के चर्च में तीन लोगों की ह’त्या करने वाले शख्स को किसी दूसरे बाहरी की तो मदद नही मिली थी ।सितम्बर महीने में पैगं’बर मोह’म्मद सल्ला’हु अलै’हि वस’ल्लम का का’र्टून प्रकाशित करने के बाद अकटुबर महीने में टीचर सैमुअल की ह’त्या हुई ।

इसकी शौक सभा मे फ़्रांसिसी राष्ट्रपति मेक्रोन पहुँचे । इसके बाद उन्होंने मुस्लि’मो के खि’ला’फ बयान दिया तो वो पूरी दुनिया के मुस्लि’मो के नि’शाने पर आ गए । मेक्रोन ने कहा कि कैरिकेचर प्रकाशित करने के अ’धिकार को कभी समा’प्त न’ही कर सकता है।

france president Emmanuel Macron
france president Emmanuel Macron

लेकिन अलजजीरा को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि मैं समझ सकता हु की कैरिकेचर से है’रानी हो सकती है लेकिन मैं हिं’सा को उचित नही मानूगा। उन्होंने कहा कि मैं मानता हूं कि हमारे अधिकारों और आज़ा’दी की र’क्षा करने का कर्तव्य मेरा है ।

Leave a Comment