लाल किले पर पहला तिरंगा जनरल शाहनवाज खान ने ही लहराया था, शाहरुख़ खान से खास कनेक्शन

भले ही आज की युवा पीढ़ी इस नाम से अंजान हो लेकिन आ’जदी का दौर देख चुके लोग आज भी उनका नाम बड़े ही आदर और स’म्मान के साथ लेते है।आ’जाद हिंद फौज के मेजर ज’नरल शा’हनवाज खान महान देशभ’क्त,स’च्चे सै’निक और ‘सुभा’ष चन्द्र बोस के करी’बियों में से एक थे।

जिस वक्त जनरल खान ब्रिटि श इंडि’यन आ’र्मी में शा’मिल हुए थे उस वक्त वि’श्व यु’द्ध भी चल रहा था। इस दौरान उनकी तैनाती सिंगापुर में थी। जापानी फ़ौज के ब्रिटिश इंडियन आर्मी के सैकड़ों सै’नि’कों को बं’दी बनाक’र जे’लों में भी ठू’स दिया था।इस दौरान साल 1943 में नेता जी सुभाष चन्द्र बोस सिंगापुर

general shahnawaz khan picture

भी आए हुए थे। ने’ताजी ने सैनि’कों को रि’हा भी करवाया था।इसी दौरान ही नेताजी के जोशीले नारे तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आ’जा’दी दूंगा। से प्र’भा’वि’त होकर जनरल शहनवा’ज खान के साथ से’कड़ो सैनि’क भी आजद हि’न्द फ़ौ’ज’ में शा’मिल हो गए थे। इसके नाद जनरल भी देश की आज’दी के लिए

अग्रे’जो के’ खि’ला’फ ख’ड़े हुए थे। जनर’ल खा’न की दे’शभ’क्ति’ और उन’की आद’त को देख’कर ने’ताजी ने उन्हें आर’जी हुकूम’त ए आजा’द हिं’द की कैबि’नेट में भी शा’मिल कर लिया था।इसके बाद सि’तम्बर 1945 में नेता जी आ’जाद हि’न्द फ़ौ’ज के चुनिं’दा सै’नि’कों को छटकर

general shahnawaz khan picture

सु’भाष बि’ग्रेड बना’यी। दिसम्बर 1944 में जन’रल शह’नवाज को नेता जी ने मांडले में तै’ना’त आज’द हि’न्द फ़ौ’ज की टुक’ड़ी का क’मांड’र भी नियुक्त किया गया था। इस बिग्रेड में ही को’हिला के अं’ग्रे’जो हुकू’मत के खि’ला’फ मो’र्चा भी सम्भल था।

Leave a Comment

close