हज 2020 के लिए 160 देशों से आएँगे हज यात्री, हज से 7 दिन पहले क्वारंटिन होगा शुरु

को’रो’ना वाय’र’स की वजह से पूरी दुनिया मे एक समय ऐसा भी आया जब सबकुछ ब’न्द हो गया लोगो को बाहर न जाने की हदायत दी जाने लगी। को’रो’ना की वजह से लाखों लोगों की मौ’त’ हुई है। 3 महीने तक देशभर में लोक डाउन जारी कर दिया गया इस बीच सभी घरेलू उड़ानों से लेकर अंतराष्ट्रीय उड़ानों को बंद कर दिया गया।इतना ही नही सऊदी अरब में स्थित का’बा श’रीफ जो कभी भी ब’न्द नही होता है ।

वहां पर जा’ने पर रो’क लगा दी गई लेकिन अ’ल्ला’ह की कुद’रत ने उसे पूरा होने दिया भले ही इंसा’नों ने वहां पर तवाफ़ कम कर दिया था । लेकिन परिं’दों ने भी वहां पर तवाफ़ किया। स’ऊदी स’रकार ने ह’ज और उ’म’राह को नि’लंबि’त कर दिया गया। ह’ज का महीना हर मुसल’मानों के लिए खुशी का महीना होता है इस महीने में हा’जी हज करने के लिए जाते है। ह’ज का महीना जि’ल्हि’जह का म’ही’ना कहलाता है।

hajj 2020

स’ऊ’दी स’र’का’र इस बार 10,000 हा’जि’यों को ह’ज करने की मान्यता देगा। इस साल ह’ज करने वालो को चुने गए जाय’रीनों ने रविवार को खुद को क्वोरन्टी’न करना शुरू कर दिया है। स’ऊदी अ’रब के कमतर मामलो को देखते हुए ये फैसला लिया गया है।स’ऊदी सरकार ने कहा है कि सभी नियमो का पालन किया जाएगा सोशल डिस्टेंडिंग, मास्क पहनना , सेनेटाइजर से हाथ धोना आदि।

अ’रब न्यूज के मुताबिक, कोरो’ना वा’इरस की वजह से हाजीयों को इस बात का जरूर ध्यान रखना होगा। ये हाजि’यों की सुर’क्षा के लिए एक उपाय है। बता दे कि सऊदी अ’रब ने इस साल 160 राष्ट्रीयताओ के लोगो को इस साल ह’ज करने के लिए चुना गया है।भाग लेने वाले हा’जियों की संख्या को हर तरह से कम किया गया है। इस बात का खास तरह से ख्याल रखा ज सके कि सामाजिक दूरी हो।

hajj 2020

हज करने के बाद भी हाजियों को अगले 7 दिनों तक क्वोरन्टीन किया जाएगा। बीते दिनों ही सऊदी मंत्रालय ने पुष्टि की है कि आगामी हज के दौरान म’क्का में पवित्र स्थल में प्रवेश करने पर बिना परमिट के लोगो को जु’र्माना लगाएगा । ये जु’र्माना सऊदी रियाल के हिसाब से 10,000 ($2,666) का जु’र्मा’ना होगा।

सऊदी अरब के पाक शहर म’क्का और उसके आसपास स्थित अलग अलग जगहों पर इ’बाद’त की जाती है। हज साल में एक बार बकरीद के समय होता है।पहले हा;जी मक्का में जमा होते है। अरफे का दिन हज का सबसे अहम दिन होता है । जब दुनिया खत्म होगी तो हर मुसल’मा’न उस मैदान में ही होगा। यहां पर हाजी इबादत करते है और अपनी ग’ल’ति’यों की मा’फी मांगते है।

hajj 2020

इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक आखरी महीने की दस तारीख को बकरीद का त्यो’हार मनाया जाता है। इस दिन कु’र्बा’नी दी जाती है । इ’स्मा’इल अलै’हिस्स’लाम को याद में कु’र्बा’नी दी जाती है। बता दे, सऊदी अरब में चाँद नजर आ गए है 31 जुलाई को ईद उल अज़हा मनाई जाएगी।

Leave a Comment

close