हरियाणा के इस गांव के लोगों ने पंचायत कर Lockdown के बहिष्कार का किया फैसला, आइसोलेशन वार्ड भी हटाया

‘को’रो’ना महा’मा’री के इस दौर में पु’लिस’कर्मि’यों और डॉक्ट’र्स जिस तरह से मरी’जो की देखभा’ल कर रहे है, काबि’ले ता’रीफ है। वही हरिया’णा के मसूदपुर गांव से एक अजीब तरह का मा’मला सामने आया है। बेरो’ज’गारी और पिछले कुछ महीनों से लोगों का काम ठप्प होने के बाद मसूदपुर गाँव के ग्रामी’णों ने सरका’री लो’क डा’उन का ब’हि’ष्का’र करने का ऐलान किया है।

न्यूज़ 18 की खबर के मुताबिक ग्रामीण पँचायत का आयोजन कर ये फैसला लिया है कि गांव में पुलि’स और डॉक्ट’र्स को घु’सने नही दिया जाएगा। पँचा’यत स्तर पर निय’म तय करके ग्रमीण खुद का लोक डा’उन गांव में लगाएंगे। इसके बाद से गांव में आइसो’लेशन वार्ड को भी ह’टा दिया गया है। यह माम’ला सामने आने के बाद पुलि’स प्र’शासन भी है’रान रह गई है।

haryana masoodpur village

बतादे कि हिसार में किसानों पर हुए लाठी चार्ज के विरोध के बाद गांव में ज्यादयर ग्रामी’ण में गु’स्सा भी है। यहां की ज्यादयर आबादी कि’सानों के समर्थ’न में है। बीते दिनों ही ग्रा’मीण ने बड़ी पँचा’यत का आयोजन भी किया है। जिसमे सभी स’मुदाय के लोगों को बु’लाया भी गया है।

उस पँचा’यत में चर्चा करने के बाद निर्णय लिया गया है कि सर’कार द्वारा लगाए गए लागू लोक डाउ’न का पूर्ण रूप से ब’हिष्का’र किया जाएगा। इस पंचा’यत में कोरो’ना को देखते हुए कहा गया है कि 15 दिनों तक गांव में किस भी बा’हरी इंसा’न को प्रवेश नही करने दिया जएगा। इसके अलावा न कोई ग्रामी’ण बाहर जाएगा। इसके अलावा दुका’नों को खुला रखा जाएगा।

haryana masoodpur village

शोक सभा और शादी के आयो’जन के कार्यक्रम भी रखे जा सकते है। गांव में हुई इस तरह की घटना के बाद जैसे ही प्रशा’सन को लगी तो अधिकारियों ने ग्राम पंचा’यतसे सम्पर्क भी किया। लेकिन पँचायत के लोगो ने इनके फै’सले लेने से साफ इं’का’र करदिया।

Leave a Comment