फ्रांस के खिलाफ़ एकजुट हुए सभी मुस्लिम देश,बोले- पैगम्बर मोहम्मद(स.अ.व.) का अपमान नही सहेंगे

पैगम्ब’र मोह’म्मद सल्ला’हु अ’लै’हि वस्स’लम की फ्रांस में गुस्ता’खी के बाद दुनिया भर के मु’स्लि’म देश एक’जुट हो गए है । दुनिया भर के कई मु’स्लिम देश फ्रांस पर कड़े प्र’ति’बं’ध लगाने के साथ उनके प्रोडक्ट को बै’न करने की भी मांग कर रहे है । बता दे, फिलि’स्तीन में मु’स्लिमो ने फ्रांस में फैले इस्ला’मोफो’बिया के खिलाफ कड़ा एतरा’ज जताते हुए फ्रांस के राष्ट्र’पति मेक्रोन की निंदा की ।आपको बता दे, बीते सप्ताह की फ्रांस के राष्ट्रपति ने कहा था कि वो अभिव्यक्ति की आ’zaदी के लिए पैग’म्बर मो’हम्मद के अपमा’नज’नक का’र्टून प्रका’शित करने से नही रोकेंगे ।

मेक्रोन के इस बयान के मुस्लि’म देशों के संगठन OIC , अरब देशों के अलावा तुर्की ,फिलि’स्तीन ने भी कड़ा एतराज जताया था । तुर्की सदर रज’ब तैयब एर्दो’गन ने तो फ्रांस के राष्ट्रप’ति को मानसिक पीड़ि’त बताते हुए उन्हें दि’मा’ग का इ’ला’ज कराने तक कह दिया था । इसके बाद मेक्रो’न ने एर्दो’गन के इस बयान को गल’त बताते हुएतुर्की में रह रहे फ्रांस के राज’दूत को वा’पस बुला लिया था।

बता दे, फ्रांस के राष्ट्रपति पर ए’र्दोगन जहा जुबा’नी जं’ग से ल’ड़ रहे है तो वही कुवै’त सर’कार ने बिना देरी किए फ्रांस के उ’त्पादों को कुवैत में बैन करने की इजाजत दे दी है । कुवैत के सुपर मार्किट में लगे बोर्ड से साफ जाहिर है कि कुवैत ने फ्रां’स के उत्पा’दों को बै’न करने के फैसले किया है ।मिस्र की ओर से भी इस माम’ले में प्रतिक्रिया आई है ।

अल अजहर के ईमाम शेख अहमद अल तैयब ने फ्रांस के राष्ट्र’पति की इस्ला’म विरो’धी बयान की क’ड़ीं निं’दा करते हुए कहा है कि राज’नीति’क लड़ाई में इस्ला’म को नही खींचना चाहिए । उन्होंने इसे सस्ती सोदेबा’जी बताया है । बता दे, लीबिया के राष्ट्रपति परि’षद के सदस्य मोहम्मद जायद ने मेक्रोन के इस्ला’म वि’रोधी बयान की कड़ीं निं’दा की है । उन्होंने कहा कि पैगम्ब’र मोहम्म’द सल्ला’हु अ’लैहि वस्सलम की प्रति’ष्ठा पर ये दुर्भा’ग्यपूर्ण बयान है ।

French products ban

वही जॉर्डन ने भी इस बयान की सख्त लफ्जो’ में म’ज्ज्मत की है । उन्होंने इसे घृणित नस्लवाद के रूप में बताया है । वि’रोध प्रदर्शन के बीच तेल अबीब के स्थानीय परि’षद के प्रमुख हैमडु ने कहा है कि इस्ला’म ध’र्म मे आतं’कवाद का।कोई स्थान नही है । उन्होंने फ्रांस को आ’तंक’वाद का जनक’बताते हुए कहा कि उन्होंने अल्जीरि’या के करीब 15 लाख लोगों का क’त्ल किया था ।

Leave a Comment