मु’स्लिम समुदाय की अनूठी पहल, म’स्जिद में सजेगा ग़रीब हि’न्दू लड़की का मंडप, 1000 बारातियो का भी होगा खाना

हमारे देश में हर तरह के लोग रहते हैं। कोई हि’न्दू धर्म को मानता है तो कोई मु’स्लिम, सिख, ईसाई आदि। आज भी हमारे देश मे मन्दिर और मस्जिद को लेकर या फिर हि’न्दू ओर मु’स्लिम स’माज मे नफरत फैला ई जाती है। लेकिन इन सबके बीच केरल से बड़ी खबर सुनने को मिल रही है , जो देश में हि’न्दू मु’स्लिम के बीच नफ़रत को कम करने का काम कर सकती है ।

खबर केरल से, केरल राज्य में एक मिसाल पेश की गई है जो सिर्फ भाईचारा को बताती है। बता दे कि केरल राज्य की म’स्जि’द में जल्द ही मंडप सजेगा। अंजु और शारथा की 19 जनवरी को शादी होने वाली है। अंजू का परिवार आर्थिक कमजोरी में है। दरअसल इन्होंने केरल की चेरुवल्ली मु’स्लिम जमात म’स्जिद समिति से इजाजत मांगी थी। उनको इजाजत दे दी गई है। वर वधु के लिए मं’डप म’स्जिद में ही सजेगा। 1,000 बारातियों को शाकाहारी भोजन कराया जाएगा।

बता दे कि म’स्जिद समिति के सचिव नज़मुद्दीन अलुमुत्तिल ने कहा है कि इस जगह पर शादियों में तोहफे देने का रिवाज है। हम लोगो ने दूल्हे को 2 लाख रुपए कैश ओर दुल्हन के लिए सोने के गहने देने का फैसला किया है। केरल के सदस्यों के मुताबिक पता चला है कि किसी म’स्जिद में पहली बार किसी हि’न्दू दूल्हे की शादी हो रही है।

बता दे कि अंजू के पिता का निधन साल 2018 में हो गया है। जब से इनका परिवार आर्थिक परेशानी में है। इनका परिवार इस म’स्जि’द के नजदीक ही एक मकान में किराएदार के तौर पर रहता है। इनके पिता पेशे से सुनार थे। नजमुद्दीन ने उस वक्त से इनकी पढ़ाई लिखाई का जिम्मा उठाया था। अंजू की शादी 19 जनवरी को सुबह 11:30 बजे मस्जिद परिसर में होगी। ऐसी खबर जरूर देश मे हि’न्दू मु’स्लिम की एकता को दर्शाती है ।

Leave a Comment

close