ईरान की संसद ने मेक्रोन को लगाई लताड़,सांसद बोले- फ्रांस में इस्लाम के प्रसार से है दुःखी मेक्रोन

इस्लाम के खिला’फ बोलकर फ्रांस के राष्ट्रपति मेक्रोन बुरी तरह से फं’स गए है । दुनिया के अधिकतर मुस्लि’म देशों में फ्रांस के प्रोडक्ट का बहि’ष्कार करने के बाद फ्रांस ने इस बात का खंडन किया है उसने ऐसा कुछ नही कहा बल्कि विरोधी ऐसा कर रहे है ।

फ्रांस के राष्ट्रपति पर बीते दिनों ईरान के राष्ट्रपति रूहानी ने एक के बाद कई ह’मले किये थे । रूहानी ने कहा था कि फ्रांस के राष्ट्रपति द्वारा ऐसी बात कहने से सिर्फ व सिर्फ नफ’रत ही पनपेगी , फायदा कुछ नही होने वाला।है ।

iran news

बता दे, ईरान के राष्ट्रपति के बाद अब ईरान की संसद से भी फ्रांस के खिलाफ मौर्चा खोल दिया है । ईरान की संसद में फ्रांस के राष्ट्रपति की पैगम्ब’र मोहम्म’द सल्लाहु अलैहि वस्स’लम के अपमान के बयान के बचा’व वाले बयान के बाद उनकी क’ड़ीं निं’दा की गई है ।

ईरान के सांसदों ने एक बयान जारी कर कहा है कि इस्ला’म के खि’लाफ लोगों का स’मर्थन करके फ्रांस ने एक बार फिर से उंसके बुरे स्व’भाव को साबित कर दिया है ।

उन्होंने कहा कि इस्ला’म मे खि’ला’फ सा’जिशें सदियों से चलती हुई आ रही है , इस्ला’म को बुरा भला हर दौर में कहा जाता है लेकिन हमेशा उनकी हर होती है ।

iran france news

ईरान के सांसदों ने कहा कि मे’क्रोन इस्ला’म के खिला’फ इसलिए बोल रहे क्योंकि फ्रांस में इस्ला’म तेजी से फैल रहा है । उन्होंने बयान में आगे कहा कि मेक्रोन की बौख’लाहट साफ दिखती है वो इस्ला’म के खिलाफ बोलकर इस्ला’म के बढ़ते फ्रांस में प्र’भाव को क’म करना चाहते है ।

ईरान के सां’सदों ने साफ की दुनिया भर के मुस्लि’म इस्ला’म और पैग’म्बर मोहम्म’द सल्ल’हु अ’लैहि वसल्ल’म का अप’मान के विरो’ध में हर जगह से खड़े होने और फ्रांस के वि’रोध करेंगे।

बता दे, मेक्रोन ने एक फ़्रांसिसी शिक्षक को अपनी कक्षा में पैगम्ब’र हज़रत मो’हम्मद सल्ल’हु अलै’हि वसल्ल’म का अपमान करने वाले कार्टू’न प्रद’शित करने का समर्थन किया था। मेक्रोन ने उस शिक्षक का बचाव बीबी किया उंसके बाद मुस्लि’म देशों ने उस पर कड़े प्रति’ब’धं लगाने को कहा था ।

Leave a Comment