ईरानी राष्ट्रपति रूहानी ने की मुस्लिम देशो से फ्रांस के खिलाफ एकजुट होने की अपील,बोले- पैगम्बर मोहम्मद (स.अ.व.) का अपमान …..

ईरान (Iran ) के राष्ट्रपति Hassan Rouhani ने एक बाद फिर फ्रांस और बड़ा ह’मला बोलते हुए कहा है कि इस्लाम मे पैग’म्बर मोह’म्मद (स अव) का अपमान वास्तव में मान’वीय नै’तिक मू’ल्यों, नैति’कता और स्वतं’त्रता का अप’मान है । पैगं’बर मोह’म्मद सल्लाहु अलै’हि वसल्ल’म के मौके पर विभिन्न देशों के प्रमुखों को दिए गए बधाई सं’देशों की एक साझा वार्ता में उन्होंने इस बात को फिर से दोहराया ।

बता दे, Hassan Rouhani की टिप्पणी फ्रांस के राष्ट्रपति मेक्रो’न के अ’भि’व्यक्ति की आज़ा’दी वाले बयान और फ़्रांसि’सी पत्रिका चार्ली हेब्दो के संदर्भ में है । रूहानी ने अपने बयान में आगे कहा की पैगम्बर मोहम्मद सल्लाहु अलैहि वसल्लम पूरी दुनिया के लिए नैतिकता , प्रेम, दया , करूँगा , ईमानदारी , सच्चाई का एक बेहतरीन उदाहरण है ।

france products

ईरान के राष्ट्रपति Hassan Rouhani ने कहा कि इस्ला’म के आखि’री न’बी सल्ला’हु अलै’हि व’सल्लम का अपमा’न करने वालों का समर्थन करना बर्ब’rता, वि’रोध और अति’वाद का स’मर्थन करना बताया है ।रूहा’नी ने फ्रांस द्वारा किए गए पै’गम्बर मोह’म्मद सल्लाहु अलैहि वसल्लम के अ’पमा’न पर कहा कि इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ ईरान इस तरह के कृ’त्य की क’ड़ीं निं’दा और विरो’ध करता है ।

उन्होंने उम्मीद जताई कि सभी मु’स्लिम देश फ्रांस के खिला’फ एकजुट होकर उंसके इस कृ’त्य की निं’दा करे ।उन्होंने कहा कि पैगम्ब’र मोहम्म’द सल्ला’हु अलै’हि व’सल्लम के बताए रास्ते पर चलकर और पवि’त्र कुरा’न की सहायता से पूरी दुनिया मे सभी स’मस्या’ओं , मत’भेदों का सामने करने में लोगो की मदद की जा सकती है ।

iran news in hindi today

Hassan Rouhani ने फ्रांस के युवाओं से कहा कि वो ऐसी अभि’व्यक्ति की आज़ादी पर बोले जो पैग’म्बर मोह’म्मद सल्ला’हु अ’लैहि वस’ल्लम के अ’प’मान के नाम पर फ़्रां’सिसी राष्ट्रपति ने कहा था ।

Leave a Comment