ईरान ने दिया फ्रांस को करारा जवाब, बोले- मुसलमान अभी जिंदा है

फ्रांस के खि’ला’फ विरो’ध प्रद’र्शन रुकने का नाम नही ले रहा है । भारत के कई हिस्सों सहित दुनिया के मुस्लिम देशों ने फ्रांस के वि’रो’ध प्रदर्शन के साथ साथ फ्रांस के बने प्रोडक्ट का भी ब’हिष्कार करने का निर्णय लिया है। पैगम्ब’र मोह’म्मद सल्लाहु अलैहि वसल्लम के अपमान के बाद मुस्लि’म दुनिया का गुस्सा बढ़ता जा रहा है । बता दे, फ्रांस के राष्ट्रपति मेक्रो’न ने अभिव्यक्ति की आज़ा’दी के ‘नाम पर इस्ला’म ध’र्म का अपमा’न किया था ।

ईरान के राष्ट्रपति अयातुल्लाह अली खामनेई ने मेक्रोन के इस बचाव के बाद चेतावनी देंते हुए कड़ीं आलोचना की थी । फ्रांस के राष्ट्रपति मेक्रोन के बयान पर खामनेई ने कहा है कि ये समय सिर्फ फ़्रांसिसी कला का पतन ही नही बल्कि फ्रांस की राज’नीति का भी पतन है। उन्होंने कहा कि फ्रांस की सरकार राज’नीति के चक्कर मे जल्ट चीजों का समर्थन कर रही है जो ग’लत है ।

iran news

अली खामनेई ने कहा कि फ़्रां’सिसी सरकार को पी’ड़ित का समर्थन करना चाहिए । मगर वो कार्टू’न बनाने को प्रकाशित करना,वो भी अभिव्यक्ति के नाम पर वो पूरी तरह से गलत है। ईरा’न ने कहा कि फ्रांस सरकार कहती है कि जो शख्स मारा गया हम उसके प्रति संवेदना व्यक्त करते है । मगर फ्रांस ग’लत काम का सपोर्ट क्यो कर रहा है ?-

ईरान ने दुनिया भर के मुसल’मानों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि सभी जगह फ्रांस के प्रोडक्ट और फ्रांस के राष्ट्रपति का विरोध हो रहा है इससे साफ है कि दुनिया भर के मुस्लि’म अभी जिं’दा है ।

macron

वही दूसरी ओर फाइनेंशियल टाइम्स ने बुधवार को एक लेख छापा । जिसमे मेक्रोन ने कहा कि उनका देश इस्ला’म से नही बल्कि इस्ला’म’वा’दी आ’तंकवा’दी से लड़ रहा है । ब’ढ़ते वि’वाद को देख फाइनेंशियल टाइम्स ने वो लेख हटा लिया ।

Leave a Comment