इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफा अल कदीमी बोले : अब उनके देश को अमेरिकी सेना की जरुरत नहीं

इराक के प्रधानमंत्री मुस्तफा अल कादिमि ने बीते दिनों ही कहा है कि उनके देश को अब आ’तं’क’वा’दी समूह इ’स्ला’मिक स्टे’ट से ल’ड़’ने के लिए अमे’रि’का से’ना की जरूर’त न’ही है। लेकिन अब उनके वा’पसी तैना’ती के लिए औपचा’रिक समय सीमा इस हफ्ते ही अमेरिका अधि’कारि’यों के साथ

बातचीत के न’तीजे पर भी नि’र्भर करेगी।उन्हीने वा’शिंगटन की यात्रा के मद्देन’जर एक इंटरव्यू में इस बात की टिप्पणी की है। अल कादिमि ने आगे कहा है कि इराक को फिर भी अ’मेरिका की प्र’शिक्षण और सै’न्य खु’फिया सेवाओ की भी आवश्य’कता हो सकती है।अल का’दिमि ने अपनी बात को आगे बढ़ा’ते हुए कहा है

iraqi prime minister mostafa al kadhimi

कि इराक की सरजमी।पर किसी भी विदे’शी से’ना की आवश्यक’ता नही है। हालांकि उन्होंने अमेरि’का से’ना की वापसी के लिए कोई स’मय सीमा भी नही बताई है। उन्होंने आगे कहा है कि इरा’की सु’रक्ष’ब’लों और अमेरि’का से’ना के नेतृत्व वाली ग’ठबंधन से’ना के बिना हीदेश की रक्षा करने मे इ’राक पूरी तरह से तैयार है।

हा’लांकि उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा है कि से’ना की वा’पसी भी इरा’क ब’लों की आवश्यक’ता पर ही निर्भर करेगी।बता दे कि हाल ही में व्हाइट हाउ’स मे’दोनो नेताओ के बीच मु’लाकात में इस समय सीमा को स्पष्ट किए जाने की भी स’म्भवना है। ऐसे उम्मीद है कि

iraqi prime minister mostafa al kadhimi

इस साल के अंत तक अमेरि’का से’ना की वाप’सी भी हो सकती है। बता दे कि इरा’क में अमे’रिका के 2,500 सै’नि’क भी मौजूद है। पिछले साल पूर्व राष्ट्रपति डोन’ल्ड ट्रम्प ने 3,000 सै’निक को वा’पस बुला’ने का भी आ’देश दिया था।

Leave a Comment