क’श्मीर इंटरनेट से दूर, लेकिन नु’मैर ने कमाल की चीज़ बनाई है, देश को दिया प्र’दुषण क’म …

ज’म्मू क’श्मी’र में धा’रा 370 ह’टा’ने के बाद से बहुत ज्यादा ब’वाल होने के चलते महीनों से वो पूरी तरह कट गया था। जम्मू कश्मी’र में सरका’र ने कई दिनों तक इंटर’नेट से’वा भी बं’द करदी थी। कई राज’नीतिक दल जिसमें मुख्य रूप से विपक्षी पार्टियों ने कहा था कि 370 हटा’ने के बाद घा’टी के हाला’त अ’च्छे नही है। लेकिन इन सभी खबरों के बीच एक बच्चा ऐसा भी है, जिसने नका’रात्मक की बजाए अपना पूरा ध्यान कश्मी’र की बेहतरी की और लगाया हैं।

नुमैर मुजफ्फर नाम का यह लड़का अभी 9 कक्षा में पड़ता है। नुमैर घा’टी की वादियों को प्रदूषण मुक्त बनाना चाहता है। उसने एक कार्बो’निक स्मोक एडजोरबर तैयार किया है। एक ऐसा यंत्र जो प्रदूषण कम करता हैं। श्री न गर के हॉर्न स्कूल में पड़ने वाले नुमैर का बनाया मॉड’ल वायु प्र’दूषण को कम करने का काम करता हैं। यह ना सिर्फ क’श्मी’र बल्कि मौजूदा दौर में हिंदुस्तान की भी जरूरत है।

नुमैर ने स्मोक एड’जोरबर का यह मॉडल बेंग’लुरु में आयोजित इंडियन साइंस कोंग्रेस में प्रजेंट किया है। नुमैर ने कहा है कि हमारा प्रोजेक्ट सभी के लिए साफ हवा के सिद्धां’त पर बना हैं। बता दे कार्ब’न एडजोरबर एक प्रदूषण नियं’त्रित करने वाला उपकरण है। जो कम सांद्र’ता वाली धा’राओं में वाष्पी’शील कार्बनिक योगि”कों को कम करता हैं। इसमे प्र’दू’षण फै’लाने वाले प्रदार्थ एक ए’क्टिव कार्ब’न बेड से गुजरते है और उन्हें सोख लेते हैं।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, नुमै’र का बनाया मॉ’डल एक बे’लना’कार है। इसके जरिये घरों में लगी चिमनी से धु’आं बाहर निकलता है। यह मॉडल कश्मी’री घ’रों को ध्यान में रखकर तैया’र किया गया है। नुमैर की माँ ने भी इनकी’ मदद की हैं।उनकी माँ चि’कित्सा क्षेत्र में काम करती हैं। इसे संशो’धित कर बड़ी फैक्ट्रि’यों में भी लगाया जा सकता हैं।

Leave a Comment

close