जामिया के छात्र अरीब अहमद ISRO में बने वैज्ञानिक, मिल रही बधाई

जामिया मिलिया इस्लामिया से इंजीनियरिंग करने वाले अरीब अहमद ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो में वैज्ञानिक पद पर चयन होकर सभी को हैरान कर दिया है आपको बता डेज़ अरीब अहमद उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद के खतौली के रहने वाले है।

वे अब इसरो में अपनी सेवाएं देंगे। इसरो में चयन के बाद उनके घर वालो का खुशी का ठिकाना नही रह है । उनके पिता काजी महताब जिया और माँ नाजरीन के बेटे ने अन्तर मीडिएट की परीक्षा। गोल्डन हार्ट एकेडमी से हासिल की । इसके बाद वो इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए दिल्ली की जामिया मिलिया इ/स्लामिया में आ गए थे ।

ISRO areeb ahmad

अहमद के पिता काजी महताब कहते है कि उनके बेटे ने इंटर मीडिएट परीक्षा पास करने के बाद वैज्ञानिक बनने की इच्छा थी ।। इसके लिए उन्होंने दिन रात मेहनत की और खवाहिश को पाने के लिए रात दिन मेहनत किया । अरीब के मामा असद फारुखी ने कहा की उनका भांजा शुरू से पढ़ाई में तेज था और एक निश्चित लक्ष्य लेकर चल रहा था।

बता दे, अरीब अहमद का हाल ही में एफसीआई में चयन हुआ है। और उनकी छह माह की ट्रेनिंग भी पुरी हो चुकी है । लेकिन उनका इसी बीच इसरो का रिजल्ट घोषित हो गया। अरीब का इसरो में इंजीनियरिंग वैज्ञानिक के पद पर चयन हुआ है ।अरीब ने कहा कि उनका परिवार एफसीआई में हुए चयन से भी

ISRO areeb ahmad

खुश था लेकिन इसरो में चयन के बाद उनके परिवार की खुशी का ठिकाना नही रह है । उन्होंने कहा कि केवल शिक्षा की अंधकार से निकाल सकती है ।बता दे, इसरो में पहले पायदान पर मोहम्मद काशिफ का वैज्ञानिक के पर चयन हुआ है।

Leave a Comment

close