CAB पर प्र’दर्शन कर रहे जा’मिया के छात्रों ने पढ़ी स’ड़क पर न’माज़, छात्र बोले -जि’न्दा कौ’म तारीख़ बदलती है

जा’मिया मिलि’या इ’स्ला’मिया यूनिव’र्सिटी के छा’त्रों ने नागरिकता सं’शो’धन का’नून के खिलाफ शुक्रवार को एक प्रो’टेस्ट का ऐ’लान किया था । यह प्रोटे’स्ट जा’मिया मिलिया मे’ट्रो स्टेशन से शुरू होना था । प्रो’टेस्ट शुरू होने के कुछ समय बाद ANI से छा’त्रों पर लाठी’चा’र्ज की खबरे आई,जिसमे कई छा’त्र घायल भी हुए । इस बीच जा’मिया के छात्रों की एक न’माज पढ़ते हुए तस्वीर सामने आई, जो सो’शल साइट पर काफी वा’य’रल हो रही है ।

इस वि’रोध प्र’द’र्शन के बीच जा’मिया के छा’त्रों को न’माज पढ़ते हुए देखा गया । छा’त्रों ने जामिया यूनि’व’र्सिटी के बाहर दिन में न’माज प’ढ़ी, इसके बाद उन्होंने ई’शा की न’मा’ज भी जा’मिया के बाहर ही पढ़ी । यह फोटो भी छात्रों की वा’य’रल हो रही है । इसके अलावा जब छात्र जामिया से संसद तक मार्च करने पर अड़े तो पुलिस ने जामिया के छात्रों पर ला’ठी’चा’र्ज के अलावा आं’सू गै’स का भी इस्तेमाल किया । इसी बीच कई छा’त्र हि’रा’स’त में लिए गए।

इस जा’मिया के छात्रों ने पु’लि’स स्टे’श’न के अंदर न’मा’ज को अ’दा किया । सोशल साइट पर यूजर इस फोटो के साथ कई लेख भी लिख रहे है । फेसबुक पर मोहमम्द आज़म इस तस्वीर के साथ अल्लामा इक़बाल का शे’र लिखते है । आ गया ऐन लड़ाई में अगर वक़्त-ए-नमाज़, क़िबला रु होके ज़मीं बोस हुई क़ौमे हिजाज़ ।।

आपको बता दे, ना’ग’रि’कता सं’शो’धन बि’ल पर दुनिया भर में ब’वा’ल मच रहा है। यह बिल लोकसभा और राज्यसभा में पास हो चुका है। इस बिल पर संयु’क्त रा’ष्ट्र ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। सं’युक्त रा’ष्ट्र के महासचिव एं’टो’नि’यो गु’टे’रेस के प्रवक्ता फहरान हक ने नाग’रि’कता सं’शो’धन बिल पर कहा कि संस्था की चिं’ता बस इतनी है कि सभी सरकार ऐसे ही कानून लागू करे जिसमे किसी भी तरह का भेद’भा’व न’ही होता हो।

फहरान हक ने आगे कहा कि हालांकि, हमे ये सुनिश्चित करना है कि सभी सरकारे बिना भेद’भा’व वाले कानून ही अपने देश मे लागू करे। विधेयक के मुताबिक, तीन पड़ोसी देशों पा’कि’स्तान, बांग्ला’दे’श और अफ’गा’निस्तान से 31 दिसम्बर 2014 तक आए 6 जा’तियां उनमे से ( ‘हि’न्दू, सि’ख,बौ’द्ध, जै’न, पा’रसी ओर ई’साई है) इनलोगो को नागरिकता दी जाएगी।

अं’त’रास्ट्रीय धा’र्मिक स्व’तं’त्रता पर गठित एक अ’मेरिकी क’मीशन ने लोकसभा से पास हुए नागरि’कता सं’शोधन वि’धेयक को ग’लत दि’शा में एक बड़ा ख’त’र’ना’क क’द’म बताया है। अभी यह बिल लोकसभा में पास हुआ है। दोनो सदनों में पास हुआ है। इस बिल को लेकर संसद में करीब 7 घण्टे तक बहस हुई ।

विधेयक के पक्ष के करीब 311 सदस्यों ने वोट किया। विपक्ष के 80 वोट रहे। अब इसे राज्यसभा में पेश कया।धार्मिक स्वतंत्रता केंद्रीय आयोग ने दोनो सदनों में बिल पास होने पर गृह’मन्त्री’ अमि’त शाह के खि’लाफ अ/मे/रि’का से प्र’ति’बंध लगा’ने की मां/ग कर डाली थी। वि’देश मंत्रा’लय के प्रवक्ता’ रवी’श कुमार ने अमेरि,की आयो.ग के बयान को गै.र ज.रूरी बता.या था।

Leave a Comment

close