नेहरू से वाजपेयी-सोनिया तक सबने भुनाई थी दिलीप कुमार की पॉपुलैरिटी

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता का लम्बे समय से स्वास्थ्य स’म्ब’न्धी बी’मा’री की वजह से मुम्बई के हिं’दु’जा अ’स्पता’ल में नि’ध’न हो गया है। इस दिग्गज अभिनेता को सभी बॉलिवुड एक्टर्स नमन भी कररहे है। बता दे कि दिलीप कुमार का फिल्मो के साथ साथ सि’या’सत से भी काफी ज्यादा गहरा रि’श्ता रहा है।

पंडि’त जवाह’र लाल नेहरू को अपना आ’दर्शमानने वाले दि’लीप कुमार राज्यसभा सदस्य भी रहे है। नेहरु जी के प्रति वो हमेशा ही व’फा’दार भी रहे है।जब भी नेहरू ने उनको आमंत्रित किया तो उन्हीने कभी भी मना नही किया । इस तरह नेहरू और अटल बिहारी वा’जपेयी से लेकर सो’निया गांधी सिहित कई

jawahar lal nehru sonia gandhi atal bihari vajpayee dilip kumar

समाज’वादी नेता’ओ ने दिलीप कुमार की पॉपुलरटी को अपने अपने हि’साब से राजनी’तिक तौर पर पेश भी किया है।बता दे किप’ण्डिय ज’वाहर लाल नेहरू जिस दौर में 1947 से लेकर 1964 तक भारत देश के प्रधानमंत्री रहे है। उस दौरान दिली’प कुमार ने अपनी फिल्मों में धर्म’निरपेक्ष’ता और समाज’वा’द को भी जगह दी है।

दिलीप कुमार की फ़िल्म चाहे 1957 में आई नया दौर ,गंगा जमुना 1961, लीडर 19 64 में आई थी इस फ़िल्म में नेह’रूवादी विचा’रधा’रा पर आधारित थी।बता दे कि वरिष्ठ प’त्रकार राशि’द क़ि’दवई की लिखी दिलीप कुमार की आत्मकथा में इस बात का जिक्र किया गया है कि 1959 में ‘पैगा’म’ फ़िल्म की शूटिंग के लिए प्रधानमंत्री नेहरु सेट पर पहुँचे थे

jawahar lal nehru sonia gandhi atal bihari vajpayee dilip kumar

तो वहां पर मोजुद सभी को लगा कि वो सबसे पहले ही’रोइन वैजयं’ती मा’ला से मिलेंगे लेकिन वो सबसे आ’ख़िर में खड़े हुए दिली’प कुमा’र के कं’धे ओर अपना हाथ रखा। उन्होंने कहा था कि यू’सुफ मुझे पता है कि तुम यहाँ हो इसलिए मैंने यह फैस’ला लिया था।यही से इन दोनों की दोस्ती शुरू हुई थी।

Leave a Comment