अरब सरकार के कड़े नियमों से प्रवासीयों पर आई बड़ी मुसीबत, बेघर होकर हज़ारों प्रवासी सड़को पर आए

सऊ’दी अ’रब में प्रवा’सी कामगर काम की त’लाश में जाते है उनको वहां पर बहुत सारे काम मिल जाते है। को’रो’ना म’हा’मा’री की वजह से छोटे व्या’पारी से लेकर बड़े व्य’पारी को भी इस वा’इ’र’स से ब’च’ने के लिए अपने उ’द्योगों’ को रोक’ना ही बे’हतर दिख रहा है। दुनि’या’भर में हर देश मे कई लोग बे’रोज’गार भी हुए है। को’रो’ना वा’इर’स की वजह से काम न’ही मिल पा रहे है ऐसे में स’ऊ’दी स’रका’र ने प्र’वा’सि’यों के वी’जा ए’क्स’पा’यर पर’मि’ट स’मा’प्त होने पर नि’य’मो में ब’द’ला’व किए है।

को’रो’ना की वजह से सो’शल डि’स्टें’टिंग, मा’स्क का पाल’न करना जरूरी है। सऊ’दी प्र’वासी कु’वैत में रहने वाले 1000 प्र’वासि’यों को रो’जा’ना हर दिन प’रमि’ट स’मा’प्त हो रहे है क्योकि वो कु’वैत के बाहर ही रु’के हुए है और उनके कु’वैती प्र’योज’को ने अपना पर’मिट को नया न’ही बनाया है । जिसकी वजह से जिन लोगो के प’रमिट एक्सपायर हुए है उन को देश मे एं’ट्री बेन हो रही है।

kuwait new rules

बता दे कि आंतरिक मंत्रालय ने सभी प्रवासियों और कम्पनी के मंत्रालय ने वेबसाइट के माध्यम से अपने कर्मचारियों के निवास परमिट को ऑनलाइन नया करबे की अनुमति भी दी है। बहुत सारी कम्पनी और नियोक्ता अपने अपने कर्मचारियों के निवास स्थाम को नवीनीकृत कर रहे है जो विदेश में फं’से हुए है दूसरी तरफ कई कम्पनियों ने ऐसा नही किया है।

उन लोगी के आवास का ठिकाना बिल्कुल खत्म हो चुका है। जो वेध वीजा के साथ कुवैत के बाहर 6 महीने से अधिक समय से रह रहे थे। कोरोना वाइरस की वजह से बीते दिनों ही आं’तरि’क मंत्रा’लय ने वे’ध वीजा वाले लोगो के लिए अबधि भी बड़ा दी थी जो इस साल के अंत तक विदेश में फं’से हुए है।

kuwait new rules

बता दे कि पिछले हफ्ते तक करीब 40,000 प्रवासियों ने अपने वी’जा पर’मिट को खो दिया है क्योकि वो विदेश में फंसने की वजह से उन्हें अपडेट करने में ना’का’म रहे है। बीते दिनों ही पासपोर्ट विभाग के निदेशक ने कहा कि जिन विदेशी का वीजा स’मा’प्त हो गया है या फिर जिनके विदेश में रहने के दौरान विज समाप्त हो गया है उनसे कोई शु’ल्क नही ली जाएगी और न ही जुर्माना लिया जाएगा।

इसी की लिस्ट में विदे’शियों की मजबूरी को देखते हुए सऊदी सरकार ने वीजा समाप्त करने के लिए जुर्मा’ना और शु’ल्क मा’फ ओर दिया है । मेजर सुलेमान ने ये भी कहा था कि अगर जिन विदेशी का नाम लिस्ट में नही है वो ऑफिस में आकर सम्पर्क कर सकते है।

Leave a Comment