पंजाब का अकेला जिला जहाँ बहुसंख्यक हैं मुस्लिम, जहां नवाब शेर मोहम्मद का सिख करते है सम्मान

पंजाब के मुस्लि’म इलाके मलेरकोटला को नया जिला बनाने को ले’कर सि’यासत भी छिड़ गई है।बता दे, 15 वी सदी में जिनका जिक्र आता है हज़रत शेख सदर उद्दीन। उस समय मलेरकोटला एक जागीर के टूर पर था। मलेरकोटला दो इलाको मिलकर बना है मलेर और कोटला। सरकारी वेबसाइट के अनुसार मलहेर इलाके ( अब मलेर) की नींव सदर-उ-द्दीन ने 1466 में रखी रही थी जो अफगान मूल के थे और यहां आकर बस थे।

यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने इसे पंजाब की कांग्रेस सरकार की वि’भाज’नका’री नीति बताया है तो वही पंजाब केसीएम अमरिंदर सिंह ने भी इस बात का जबाव देने में कोई देर नही लगाई है।अमरिंदर सिंह ने ट्वीट करते हुए कहा है कि योगी आ’दित्यनाथ का बयान बी’जेपी की विभा’जनकारी नीति’यों की कवायद के तौर पर शान्तिपूर्ण पंजाब में नफ’र’त पै’दा करने का प्रयास है। अमरिंदर ने पंजाब के मलेरकोटला को बीते दिनों ही 23 व जिला घोषित भी किया है। इसे संगरूर जिले से अलग कर बनाया गया ह।

malerkotla news

यूपी के मुख्यमंत्री ने पंजाब के मुस्लिम बहुल इलाके मलेरकोटला को नया जिला बनाने को लेकर अमरिंदर सिंह पर ह’म’ला बोला है। योगी आदित्यनाथ ने इसे कांग्रेस की वि’भाज’नकारी नी’ति का आईना भी बताया है। यह जिला चंडीगढ़ से131 किलोमीटर दूर है।

इसे संगरूर जिले से अलग करबनाया गया है।इसके अलावा भी यहां पर कई विकास परि’योजनाओं को लेकर भी ऐलान किया गया है।अमरिंदर सिंह ने ईद के मौके पर इस खुशी को बताया था। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार ने मलेरकोटला को नया जिला बनाने का फैसला किया गया। पंजाब का यह जिला काफी ज्यादा ऐतिहासिक भी रखता है। यहां पर जल्द ही जिला प्रशा’सन का कार्या’लय काम करने भी लगेगा।

malerkotla news

उन्होंने कहा कि दुनियाभर में सिख समुदाय मलेरकोटला के पूर्व नवाब शेर मोहम्मद खान का सम्मान भी करते है। जिन्होंने मुग’लो के अ’त्या’चा’रों और गुरु गोविंद सिंह के दो बेटों को जिं’दा ईं’टो में चुन’वा देने के खि’ला’फ आ’वा’ज भी उठाई थी।

Leave a Comment