पि’ज़्ज़ा ह’र्ट डिलीवरी बॉय मोईन खा’न की मेहनत रंग लाई , बने पु’लिस में सब इं’स्पेक्टर

पि’ज्जा हट डि’लीवरी बॉय यानी खाना आप तक , हम तक पहुंचाने वाला व्यक्ति। एक ऐसा व्यक्ति , एक ऐसा पिज़्ज़ा हट डिलीवरी बॉय जिसका नाम मो’इन खा’न है, उसने सफलता की नई इबारत लिखीं हैं। वह ज’म्मू क’श्मीर में पु’लिस स’ब इं’स्पे’क्टर। जिन्होंने अपनी जिंदगी में पैसे कमाने के लिए उन्हें कार धोने से लेकर राशन की दुकान तक सात साल तक काम किया । फिर बाद में खाना इधर से उधर तक डिलीवर करने का काम किया । आज यह पु’लिस में स’ब इं’स्पे’क्टर बने है।

28 वर्ष के खा’न अब खा’की की व’र्दी में इतराते है , अपनी सफलता पर खुश होते है , भला हो भी क्यों न हो । अपने सपने को पूरा करने के बाद पूरी शान के साथ व’र्दी को पहनकर निकलते है। मो’इन खा’न बताते है कि ‘में न’गरोटा के थ’ड़ा पानी गांव का रहने वाला हू मेरे माता पिता अशिक्षित है और में अपने घर मे ग्रेजुएशन पूरा करने वाला पहला व्यक्ति हूं।’ मोइन खान के बड़े भाई को डा’उन सिं’ड्रो’म है और उनका इ’लाज चल रहा है।

pizza hart boy

उन्होंने उ’धमपुर स्थित पु’लिस ट्रे’निंग एके’डमी में ट्रे’निंग हासिल की। मोइन वे’टर के अलावा का’र धोने का काम भी करते थे। मोइन के पिताजी मोहम्मद शफीक दूध बेचने का काम करते थे। इसके बाद उन्होंने गु’जरात मे एक ढाबा खोला लेकिन साल 2009 में उनका ए’क्सीडेंट हो गया। खान ने जब भी अपनी हि’म्मत नही हारी फिर बाद में उन्होंने दो’स्तो के साथ मिलकर कार धो’ने का बिज’नेस शुरू किया।

तीन साल तक उन्होंने यही काम किया । दोस्तो ने उन्हें आई’पी’एस सं’दीप के बारे में साल 2016 में उन्होंने स’ब इं’स्पे’क्टर की भर्ती का विज्ञापन देखा और अप्लाई कर दिया। उनके एक दोस्त ने बताया कि हाल ही में एक आ’ई’पी’एस ऑ’फिसर एक हॉल में उन छात्रों को कोचिंग देते है जो आ’र्थिक रूप से कमजोर होते है। मोइन को पता लगा कि ऑ’फिसर फ्री मैं कोचिंग देते है।

खान ने क्ला’स में एडमिशन लिया और इसकी मदद से सफलता में दिस’म्बर 2018 में परीक्षा के नतीजे आए और एक हफ्ते पहले उन्होंने ट्रे’निंग ए’केडमी को जॉइन किया। मो’इन की कहा नी ऐसे कई लोगो को प्ररित करती है जो मेहनत से अपने सपने को साकार करने में विश्वास रखते है। मोईन की तरह आप भी बन सकते है ,सफलता के झं’डे गा’ड़ सकते है लेकिन लगन, मेहनत , इच्छाशक्ति आपको ही रखनी है।

Leave a Comment

close