मोहम्मद अजहरुद्दीन का निलंबन वापस, हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद पर फिर हुए बहाल

पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अज’हरुद्दीन को हैद’राबाद क्रिकेट एसोसि’एशन के अध्य’क्ष पद पर फिर से उनको बहा’ल कर दिया गया है। लोकपाल न्यायमूर्ति दीपक वर्मा ने उनके पक्ष में फैसला सुनाते हुए अज’हरुद्दीन को निलं”बित करने वाले ए’पेक्स काउंसिल के 5 सदस्यों पर का’र्यवाही करते हुए उन्हें

अस्था’ई रुप से अ’योग्य कर दिया गया है।अज’हरुद्दीन को बीते दिनों निय’मो का उ’ल्लं’घन करने के आ’रोप में इस प’द से ह’टा दिया गया है। पूर्व भारतीय कप्तान को सितम्बर 2019 में एचसीए का अध्यक्ष बनाया गया था। बता दे, एचसीए लोकपाल ने अंतरिम आदेश में एचसीए एपेक्स

mohammad azharuddin

काउंसिल के 5 सदस्यों उपाध्यक्ष के जॉन मनोज, आर विजनन्द, नरेश शर्मा,सुरेंद्र अग्रवाल और अनुराधा को अस्था’ई रूप से अ’योग्य करार दिया गया है।जिनकी और से काउं’सिल के सं’विधान के कथित उलनग्गन का हवाला देते हुए अजह’रुद्दीन को निलं’बित किया गया था।

लोकपाल दीपक ने आदेश में कहा है कि अजहरुद्दीन के खि’लाफ शि’कायत लोक’पाल के पास न’ही भे’जी गई, इसलिए इसकी कोई मान्य’ता नही है। एपेक्स काउं’सिल स्वयं इस तरह के फैस’ले नही कर सकता, इसलिए अगर इन 5 सदस्यों द्वारा क्रिकेट संघ के निर्वाचित अ ध्यक्ष को नि’लं’बित करने के लिए कोई प्रस्ताव

mohammad azharuddin

पारि’त किया गया है। मैं उसे रद्द करने को पूरी तरह से उचित भी समझता हूं।उन्होंने कहा है कि मैं निर्दे’श देता हूं कि मो’हम्मद अजहरुद्दीन एचसीए के अध्यक्ष के रूप में भी बनें रहेंगे और पदा’धि’कारियों के खि’लाफ सभी शिका’यती पर लो’कपाल द्वारा ही निर्णय लिया जाएगा।

Leave a Comment