जादुई नीले रंग में नहाया हुआ हैं ये शहर, खूबसूरती के पीछे छिपा है बदसूरत सच

दुनिया मे ऐसी तमाम चीजे है जो देखने मे किसी तलिलिस्म की तरह है। भारत मे अगर आपको जयपुर शहर आपको गुलाबी रंग से मोहित कर लेता है तो मोरक्को में एक ऐसा शहर है जो आपको नीले रंग के जादू से अपनी और खींचे लेगा। हालांकि इसका असलो नाम chefchaouen है।

यह रीफ की वादियों में बसा हुआ है। मोरक्को के शफशवन नाम के इस शहर की अदा ही निराली है। यहां के घर,दीवार, खिड़कियों से लेकर सड़के नीले रंग में रंगी है। इस शहर की नींव 1471 में पड़ी थी। इस मोरक्को के सबसे पवित्र शहरों में गिना जाता है।

यहां के लोग इसकी रंग की पवित्रता का प्रतीक मानते है। यही वजह है कि यह पूरा शहर नील रंग में रंगा हुआ है। यहां की हर चीज में ऐसा ही कम्बीनेशन मिलेगा।नीले रंग को मानने की अलग अलग परम्परा है। कई लोग मानते है कि नीले रंग से कई मच्छर दूर रहते है।

वही कुछ लोगो का कहना है कि इस रंग का इस्ते’माल शहर को एकरू’प और सुं’दर बनाने के लिए किया गया है। इस शहर को यूनेस्को को विश्व धरोहर सूची में शुमार किया गया है। मोरक्को को यही मात्र ऐसा शहर है जहां का’नूनी तौर पर भांग की खेती

करने की अनुमति दी गई है। दुनियाभर में इस्ते’माल होने वाली च’र’स की 40 फीस’दी तक सप्लाई इसी शहर से की जाती है। यहां पर ज्यादा सैलानी गर्मियों के मौसम में आते है। नीले रंग की खूबसूरती गर्मियों में और ज्यादा निखकर सामने आती है।

Leave a Comment

close