मिलिए दुनिया की सबसे पहली हिजाबी पायलेट से, नकाब में ही उड़ाती है प्लेन, दुनिया कर रही इनकी बहादूरी को सलाम …

दुनिया भर में रोज़ रोज़ युवाओं के चमकने की कहानी मिलती है । लेकिन अब कुछ जगहो से मुस्लिम लड़कियों केनाम सामने आ रहे है । ये लड़कियां अपने माँ बाप के अलावा देश और समाज का नाम रोशन कर रही है । आज लडकिया हर क्षेत्र में बाजी मार रही है । ये दुनिया के इतिहास में पहली बार ऐसे हो रहा है जहाँ पर मुस्लिम लड़की पायलट भी बनी है ।

और नकाब पहनकर पायलट भी चल रही है। पाकिस्तान में हि’जाब पहने हुए इस लड़की की हर कोई तारीफ कर रहा है और ये महिलाओं के लिए गर्व की बात है। इस मुस्लिम महिला का नाम शहनाज लाघारी है। आपको बता दे कि मुस्लिम महिला पायलट पाकिस्तान की रहने वाली है और सभी लोग काफी बधाई दे रहे है।

muslim female pilots

इससे पहले पा’किस्तान के इति’हास में पहली बार सेना द्वारा एक महिला की नियुक्ति ले’फ्टिनेंट जन’रल के रूप में की गई थी। तीन सितारा ज’नरल का महत्वपूर्ण पद हासिलकरने वाली मेजर जनरल निगर जोहर की पोस्ट पाकिस्तान सेना की पहली सर्जन जनरल के पद पर हुई थी। बता दे कि मेजर जर्नरल जौहर सेना के मेडि’कल कोर से जुड़ी हुई है।

जौहर 1985में आर्मी मेडिकल कॉलेज, रावलपिंडी से ग्रेजुएशन करने के बाद पा’किस्तान सेना के मेडिकल कोच के लिए चुनी गई थी।साल 2015 में जौहरसंयुक्त’ सैन्य अस्पताल रावल’पिंडी की डिप्टी क’मांडेंट बनी थी। 2017 में मेजर जनरल का पद हासिल’करने वाली निगर जौहर पाकि’स्तान सेना की तीसरी महिला अधिकारी थी।

muslim female pilots

शाहिदा और शाहिदा मलिक अन्य दो महिला मेजर जनरल रही है। ले’फ्टिनेंट जनरल निगर के पिता औऱ पति दोनो ही पा’किस्ता’नी सेना मे थे। वो रिटायर्ड मेजर मोहम्मद आमिर की भतीजी थी जो पाकि’स्तान के पूर्व से’ना अधिकारी है, जिन्हीने इंटर सर्वि’सेज इंटे’लिजेंस मे सेवा की थी। इनके पिता ने भी कनर्ल कादिर ने भी आई’एस’आई में सेवा की थी।

Leave a Comment

close