कोरोना: मुस्लिम वैज्ञानिक करेगा अमेरिका की मदद, डोनाल्ड ने सौपी मुस्लिम वैज्ञानिक को बड़ी जिम्मेदारी,जानिए

को/रो.ना वा/य’रस की वजह से हर देश अपनी नाग’रीको के लिए कड़ी सु’र’क्षा में लगे हुए है। को’रो’ना की वजह से लाखों लोगों की मौ’त हो गई है। ऐसे में देश भर के सभी डॉक्टर्स, वैज्ञा’निक इस ‘बी’मा’री के इलाज में लगे हुए है। अ’मेरिका राष्ट्रप’ति डो’नाल्ड ट्रम्प ने को’वि’ड 19 से लड़ने के लिए वै’क्सी’न खो’ज’ने ले लिए एक फ़ास्ट ट्रैक कार्यक्रम को नेतृत्व करने के लिए एक अ’मेरि’की मु’स्लि’म न्या’यधीश मो’हम्मद स्ला’वि को चुना है।

डॉन अखबार के अनुसार, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने व्हाइट हाउस में एक समाचार ब्रीफिंग में घोषणा की है कि ऑ’परेशन ताना स्पीड के मुख्य वै’ज्ञानि’क है। मुं’सिफ डॉ मोहम्मद स्लावि होंगे। इन्होंने 14 नए टीकों को विकसित करने में मदद की है। जो एक विश्व प्रसिद्ध प्रतिर क्षा’वि’ज्ञानी है। ट्रम्प ने कहा है कि मोरक्को के अमेरिकी ए’मोनोजि’लिस्ट वैक्सी’न के वि’कास के लिए दुनिया के सबसे सम्मनित लोगो मे से एक है।

बता दे कि डॉ मुंसिफ मोहम्मद का जन्म 1959 में मो’रक्को के अगाडीर में हुआ था। वो प्रसिद्धदवा कम्पनी ग्लै’क्सोस्मिथ’क्लाइन में वै’क्सी’न वि’भा’ग के प्रमुख थेऔर क’म्प’नी में 30 सालो तक काम किया।उन्होंने 100 से ज्यादा वैज्ञानिक पत्र प्रकाशित किए है। अंतराष्ट्रीयएड्स वैक्सी’न निदेशक मंडल के सदस्य भी रहे है।

व्हाइट हाउस ब्रीफिंग में कार्यक्रम का परिचय देते हुए कहा है कि मैंने हाल ही में एक को’रो’ना वाय’रस वै’क्सीनके प’रीक्ष’ण से प्रारंभिक डेटा देखा है । उन्होंने आगे कहा है कि 2020 के अंत तक लाखो टीके होंगे। बता दे, दुनिया मे सबसे ज्यादा को’रो’ना के मामले अमेरिका में सामने आए है और वहां पर भी सबसे ज्यादा मौ’तें हुई है ।

अमे’रिकी मीडिया के अनुसार अमेरिका में 50 हज़ार से अधिक लोगो की मौ’त हो चुकी है । चीन के वुहान शहर से फै’ले इस वा’यर’स का असर अब पूरी दुनिया मे फै’ल’ता जा रहा है । बता दे,चीन ने को’रो’ना पर पूरी तरह से का’बू पा लिया है और वह अबपहले की ही तरह रोजमर्रा जिंदगी गुजार रहेहै । वही अगर भारत की बात की जाए तो अधिकतर हिस्सो में कुछ शर्तों के साथ बा’जार खु’ल गए है ।

Leave a Comment

close