शुक्रिया : अपने शुरुआती कोच नसीम अहमद के पैर छूकर बोले नीरज चौपड़ा “मेडल आपकी देन’

हर खिलाडी की ख्वाइश होती है कि वह सफलता की ऊंचाइयों को छुए लेकिन तकदीर हर किसी के साथ भी नही होती है। कुछ ही लोग सफलता के आसमान पर भी छा जाते है। इसमें कुछ खिलाड़ी ऐसे भी है जो सफलता की ऊंचाइयों पर छा जाने के बाद अपनी जड़ों से जड़े रहते है।

हाल ही में ओलम्पिल में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास दर्ज करने वाले नीरज चोपड़ा भी उन्ही में से एक है।नीरज बीते दिनों ही चंडीगढ़ भी गए हुए थे। वहां पर उन्होंने मुख्यमंत्री राज्यपाल के साथ साथ अपने शुरुआती कोच नसीम अहमद से भी मुलाकात की है। नीरज ने अपने कोच नसीम अहमद

neeraj chopra naseem ahmad

से कहा है कि यह मेरे लिए सपना सच होना जैसा ही है।नीरज चोपड़ा के शुरुआती कोच रहे नसीम अहमद ने कहा है कि नीरज ने मेरे पैर भी छुए और मेडल को मेरे हाथों में थमा दिया। एक कोच के लिए इससे बड़ा मौका क्या हो सकता है। नीरज ने कहा है कि यह आपकी ही देन है।

आपने मेरे मेडल की खुशी ताऊ देवीलाल स्टेडियम में पूरे जोश के साथ भी मनाई है। नीरज ने अपने करियर की शुरुआत को ताऊ देवीलाल स्टेडियम से पँचकुल से ही कि थी।शुरुआती दिनों में नसीम अहमद ने नीरज को प्रशिक्षण भी दिया था।

neeraj chopra naseem ahmad

नसीम ने नीरज से कहा था कि हम तुझे बहुत ही ज्यादा याद भी कर रहे है और सोच रहे थे कि मिलबे का मौका कब मिलेगा। इस बात पर नीरज चोपड़ा ने कहा था कि मैं जरूर थोड़ा लेट हो जाऊंगा लेकिन मैं सबसे मिलूंगा।

Leave a Comment