जनसंख्या नियंत्रण कानून नहीं चाहते CM नीतीश कुमार, कहा- कानून नहीं बल्कि महिलाओं को शिक्षित कर उन्हें….

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में कहा है कि का’नून से नही बल्कि जन’सं’ख्या नि’यं’त्रण जैसा मामला महि’लाओं को शि’क्षित करके ही हासिल किया जा सकता है और यह तब ही सम्भव है। बता दे कि नीतीश कुमार ने जनता के दरबार मे मु’ख्यमंत्री का’र्यक्रम मे

मीडिया से बात करते हुए कहा है कि जो राज्य जो करना चाहे अपना करे लेकिन मेरा मत बहुत ही साफ म’त है कि ज’न’संख्या’ नि’यंत्रण के लिए सिर्फ कानू’न बना’कर कोई उपाय करेंगे तो भारत जैसे देश के लिए यह बात सम्भ’व न’ही है। अगर आप ची’न का उदाहरण

nitish kumar does not want population control law

देखेगे तो देश की क्या स्थिति है।इ सको हम सब ही देख रहे है। अगर महिलाए पूरे तौर पर पढ़ी लिखी होगी तो उनमें इतनी ही ज्यादा चे’तना और जा’ग्रति भी होगी। बिहार के मुख्यमंत्री ने आगे बताया है कि संवि’धान के अनु’च्छेद के हवा’ला दकर सिर्फ स’मान ना’गरिक

स’हिं’ता ही क्यो पूरे देश में न’शाबं’दी को लागू किया जाना चाहिए। नीतीश कुमार ने जनता के दरबार मे मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात भी की है। जब मीडिया ने स’मान ना’ग’रिक सहि’त के सम्बन्ध में दि’ल्ली उच्च न्या’या’लय की

nitish kumar does not want population control law

टि’प्प’णियों को लेकर सवा’ल किया तब उन्होंने कहा था कि कॉ’मन सि’विल को’ड किस नम्बर पर है। अ’नुच्छे’द 44 की बात हो रही हैजरा नम्बर 47 भी देख लिजिए। बिहार में तो हम लोग ने न’शा’बंदी’ लागू कर दी है

Leave a Comment