दुनिया के सबसे बड़े ईसाई धर्मगुरू ने कहा- मु’सलमान करें अ’ल्ला’ह से दुआ ताकि …

दुनिया में एक तरफ कोरो’ना म’हामारी के खिलाफ जंग लड़ी जा रही है तो दूसरी तरफ मुस्लि’म स’मुदाय के प्रति बढ़ती अप्रिय घट’नाओं के बीच मु’स्लि’मों के सबसे पवित्र महीने रम’जान में इस को’रो’ना से नि’पटने के लिए दुआ कराने के लिए दुनिया भर में कहा जा रहा है। जैसा कि आप सभी जानते है पवित्र रम’जान के मही’ने में मुस’लमान रोजे रखते है और इबादत करते है। रम’जान के पाक महीने में दुनिया के कई देशों की तरफ से कहा गया है ।

दुनिया भर के मु’स्लि’म इस पवि’त्र महीने में को’रोना से ब’चने के लिए दुआ करे । इनमें दुनिया के सबसे बड़े पॉप से लेकर यूएन तक शामिल है । उन्होंने पॉप की बात का भी समर्थन किया है । इसी बीच ई’saइयों के सबसे बड़े धर्म पॉप फ्रांसिस ने कोरोना म’हामा’री के खत्म करने के लिए 14 मई को सभी ध’र्मों के लोगो से एक दिन का रोजा रखने और मु’स्लिमों के साथ इबाद’त में शामिल होने के लिए कहा गया है।

बता दे, पॉ’प ने रम’ज़ान शुरू होते ही पवित्र महीने की मुबारकबाद दी थी । जिससे अब अंतराष्ट्रीय नेता’ओ का भी समर्थन हासिल हुआ है। उन्होंने कहा है कि पूरी मानव जाति को को’रोना वाय’रस म’हामा’री को दूर करने में अल्लाह से मदद मांगनी चाहिए।अल अजहर मिस्र के ग्रैंड इमाम अहमद अल तैयब ने पॉ’प फ्रां’सिस के इस आहान का स्वागत किया है। बता दे, इस्ला’मिक दे’शों में ई’माम अज़’हर को काफी मानां जाता है । मिस्र के अल तैयब ने एक फेसबुक पोस्ट में इस पहल का स्वागत किया है।

पॉप फ्रांसिस के इस आह्वान का विश्व स्तर पर जबरदस्त समर्थन मिलता है दिखाई दे रहा है । इसी बीच यूएई के शेख मोहम्मद बिन जायदअल नाहन, लेबनानी राष्ट्रपति मिशेल सहित विश्व के नेताओ ने कहा है कि रम’ज़ान के पवित्र महीने में सभी लोग दुआ करें, ताकि को’रोना महा’मारी से जल्द से जल्द निजात मिल सके ।इसके अलावा सयुक राष्ट्र प्रमुख एंटनियो गुटर्स 14 मई को होने वाली सा’मुहिक दुआ का समर्थन किया है ।

उन्होंने कहा कि वो समस्त इंसानियत को बचाने वाले लोग इस दुआ में शामिल होंगे।एंटनियो ने आगे कहा कि हमे इस मुश्किल वक्त में मानवता, एकजुटता के लिए एक साथ खड़ा होना चाहिए।कॉन्सटेंटीनोपैल बरथोलोमयू के इकोनॉमिकल पेट्री आर्क ने भी इस बात का समर्थन किया है।पॉप फ्रां’सिस के सहयोगी मोनिसिनोर योआनिस लाजी गेड़ ने 14 मई को एक ऐतिहासिक दिन बताया है। वह मिस्र में ई’साई धार्मि’क प्रमुख के उच्च समिति के सदस्य है।

उन्होंने कहा कि यह पहली बार होगा जब सभी बिरादरी के लोग एक ही लक्ष्य के लिए एकजुट हो गए है। उन्होंने आगे कहा कि महामारी ने दुनियाभर में करोड़ों लोग सं’क्र’मित हो चुके है और लाखों लोग अभी तक इसमें जा’न गवा चुके है ।बता दे, कोरोना की वजह से दुनिया’भर की कई म’स्जिदों में लगातार नमाज हो रही है तो वही कई देशों में जहा करो’ना का प्रभा’व ज्यादा है वहा पर ईमाम सहित पांच सदस्यों को न’माज पढ़ने दिया जा रहा है ।

बता दे, रम’जान के इस पाक महीने में भी सभी लोग घरों पर नमाज अदा कर रहे है। सऊ’दी में सबसे पवित्र स्थल म’क्का और मदीना की पवित्र म’स्जिदों को कुछ लोगों की इ’जाजत के साथ नमा’ज पढ़ने के लिए खोल दिया गया है ।

Leave a Comment

close