जब पुलिस कमिश्नर बने मुस्लिम युवक, कामकाज का जायजा लेने कुर्ता, टोपी पहकनर थाने पहुंचे,कहा- बेगम को

म’हा’मा’री के इस दौर में पु’लि’स किस तरह से अपना काम को अंजा’म देरहि है।इस बात का पता लगाने के लिए पि’परी चिंच’वड़ के कमि’श्नर ने एक अनोखा अंदाज को अपनाया है। उन्होजे अपना मेक’अप के जरिये अपना हु’लिया बदल’कर मु’स्लि’म फ’रिया’दी बन’कर शहर के तीन था’ना पहुँच’कर पु’लि’सक’र्मी के अंदाज को भी अपना’या है।

दरअसल कमिश्न’र कृ’ष्ण प्रका’श इस बात को जान’ने की को’शिष कर रहे थे कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में पु’लि’स आम लोगो के साथ कैसा बर्ता’व कर’रही है।उन्होनेअपनी पत्नी केसाथ में एसी’पी प्रे’रणा कट्टे भी थी। उन्हीमे कुर्ता पजामा, सिर पर टो’पी पूरे मु’स्लि’म के लोगो की तरह अप’नहु’लिया को बदल दिया था।

pune commissioner krishna prakash

उनकी पत्नी दोनों इसी वे’शभूषा में पिपरी था’ना पहुँचे। यहां पर उन्होमे बता’या कि घर का एक व्य’क्ति को’रो’ना पॉजि’टि’व है। उसे एम्बुले’न्स से हॉ’स्पि’टल पहुचाना है। एम्बु’लेंस वाले बहुत ज्यादा पैसे ले रहे है।उनके खि’ला’फ शि’का’यत को दर्ज करें और कार्य’वाह भी करे।इस पर पिपरी पु’लिस स्टे’शन में तैनात पुलिस वालों

ने कहा यह हमा’रा काम नही है। कृ’ष्ण प्रका’श के मुताबि’क बताया गया है कि इस पुलि’स था’ना में बात करने का सही तरी’का नही है।क’मिश्नर के मुता’बिक ब’ताया गया है कि हमे इनके व्यव’हार को जानना था। महामारी के इस दौर में हम इस बात को जान’ते है कि किस लो’गो की शिका’यत सुनी जा रही है

pune commissioner krishna prakash

या फिर नही। रात के वक्त पु’लि’स किस तरह से अपने’काम को अं’जाम दे रही है। ऐसा करने से पुलि”सकर्मि’यों को ड’र भी बना रहेगा। लोगो के प्रति उनकी जागरू’कता भी बढ़ेगी।

Leave a Comment