करोना: रमजान से पहले दुनिया के मुसलमान परेशान, आखिर इस बार कैसे मनाया जायेगा Ramzan, उधर यहूदीयों ने मनाया …

दुनिया भर में कई प्रकार के ध’र्मो के लोग रहते हैऔर आ’स्था के अनुसार इबा’दत भी करते है । जिनके अपने अपने धार्मिक अनुष्ठान होते है और त्योहार होते है। सभी ध’र्मों के लोग अपने अपने हि’साब से त्योहार मनाते है। इस बार काफी कुछ अलग देखने को मिलगे। आज पूरी दुनिया मे को’रो’ना वा’यरस फे’ल चुका है इस वा’य’रस से 2 लाख से अधिक लोग सं’क्र’मित है। दुनिया भर के आंकड़े बताते है कि 1 लाख से भी ज्यादा लोग इस वजह से मौ’त के शि’कार हुए है।

लेकिन ये ल’ड़ाई आप’स मे एक’जुट होकर ही लड़ी जा सकती है वही दूस’री और सभी ध’र्म के लोग अपने अपने ध’र्म को लेकर चिंतित है। ऐसे में मु’सल’मानों के सबसे प’वित्र और बड़े त्योहार का महीना रमजान दस्तक दे रहा है।ऐसे में बड़ा सवाल है कि इस बार रमजा’न कैसे मनाया जाए।बता दे कि हर साल मनाए जाने वाले रम’जान के महीने में शायद ही वैसी रौनक देखने को मिलेगी जो कि पिछले कई सदियों से देखते हुए आ रहे है।

वही दूसरी और यहू’दी समुदाए भी इससे चिं’ति’त है लेकिन उन्होंने अपना पर्व मनाया। य’हूदी कैलें’डर से सबसे धा’र्मिल उत्सवों में से एक पासोवर की शुरुआत 8 अप्रेल हो हुई थी , जो इसी दिन शाम से मनाया जाता है ।य’हूदी परिवार इसमें आपस करीबी साथियों से जुटते है ओर एक प’कवान सेंडर खाते है। धा’र्मिक कि’ताबे पड़ते है, गाने गाते है और कहानियां सुनाते है।यह त्यो’हार यहू’दी स’मुदाए मि’स्र की गुला’मी से आ’जाद के तौ’र पर मनाते है।

इसे य’हूदियों के सबसे महत्त्वपूर्ण पर्व माना जाता है। पा’सोवर के दौरान यहू’दी फी’की रोटी, जिसे की मा’त जह कहा जाता है,इसे खाते है। जबकि दूसरी ओर र’म’जा’न 25 अप्रैल से शुरू हो रहा है। मु’स्लि’म स’माज के लिए सबसे पा’क म’हीना होता है। इसी पा’क म’हीने में पहली बार प’वि’त्र कु’रा’न ना’जिल हुआ था। इस पूरे महीने में मु’स’लमा’न रोजा रखते है और दि’न में खाना पानी से दूर रहते है। शाम को सू’रज ढलने के बाद अपने परि’वार, समूह के लोगो के साथ मे अपने रो’जे को खोलते है।

सभी लोग म’स्जि’दों में जाकर न’माज , इबा’दत करते है। इस बार को’रो’ना वाय’रस’ के चलते दुनि’याभर में सो’शल डि’स्टेंडिंग को भी अपनाया जा रहा है। ऐसे में कोई भी म’स्जि’दों में नमा’ज अ’दा नही कर रहे है। भी’ड़ ज’मा होने से सं’क्र’मण का खत’रा रहते है। ऐसे में सऊ’दी सर’कार ने भी उम’राह पर रोक लगा दी थी।

Leave a Comment

close