म’हिलाओं को आ’ज़ादी देने के मामले में स’ऊदी अ’रब निकला सबसे आ’गे, मिला ये स्थान, जानिए

सऊदी अरब को पूरी में सबसे शक्तिशाली मु’स्लिम देश की लिस्ट बम शुमार किया जाता है। यहां की आबादी मु’स्लिम है और का’नून भी इ’स्ला’मि’क है । यहां पर सऊदी सरकार के अपने अधिकार और नियम भी है। जिसकी पालना करना हर नागरिक का कर्तव्य है। चाहे वो पुरुष हो या फिर महिलाएं हो या फिर सऊदी में काम करने वाला कोई कर्मचारी हो या श’र’णा’र्थी” हो । बता दे, सऊदी सरकार पिछले कई सालों से ही महिलाओं को लेकर जागरूकता दिखाई है वो इसमें बाकी विकसित देशों का त’र्क देती है।

कई मीडिया रि’पोर्ट्स ने भी माना है कि स’ऊदी में म’हि’ला’ओं के पास पहले इतने ज्यादा अ’धिकार नही थे जितने की अभी के समय मे है। या यूं कहें कि विकास के नाम पर इ’स्ला’मि’क का’नून से कि’नारा भी करते हुए जा रहे है । सऊदी स’रकार ने बीते दिनों महिलाओं और से जो प्रति’बं’ध ह’टा’ए है उनमें से खास कर म’हि’ला’ओं के लिए है । अब सऊदी की महिलाएं बिना पुरुष के यात्रा कर सकती है , अपने किसी भी द’स्ता’वेज को यही कराने के लिए बिना पु’रुष के भी जा सकती हैं।

अब सऊदी की महिला गाड़ी चला सकती है और सिनेमा भी देखने जा सकती है । बता दे हाल ही मैं विश्व बैंक ने एक रिपोर्ट साझा की है । जिसके मुताबिक , 2017 के बाद से सऊदी अरब की अ’र्थव्य’वस्था ने लैं’गि’क स’मा’न’ता की और विश्व स्तर पर सबसे बड़ी प्रगति की हैं। विश्व बैंक की म’हिला,व्या’पार और का’नून 2020 बताता है कि 190 अर्थव्यव’स्था’ओं में कानून महिलाओं को कैसे प्र’भा’वि’त करता हैं।

सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था ने पिछले साल की मुकाबले में ज्यादा व्रद्धि की है। सऊदी की अर्थव्यवस्था को 100 में से 70.6 अंक दिए है इसके 31.8 अंको के पिछले स्कोर से बढ़ोतरी हुई हैं। सऊदी अरब विश्व बैंक प्रेस वि’ज्ञ’प्ति के मुताबिक 2017 के बाद से ही यह सऊदी में विश्व स्तर पर सबसे बड़ा सुधार हुआ है। यह सुधार करने वाला देश है। जिसमे महिलाओं की गति’शीलता , यौ’न उ’त्पी’ड़’न, सेवा’नि’वृ’त्ति की आयु और आर्थिक ग’तिवि’धियों में प्र’ग’ति शामिल थी।

सऊदी के अध्ययन में पाया गया है कि सऊदी ने जून 2017 से सितंबर 2019 तक महिलाओं के आर्थिक स’शक्तीक’रण से जुड़े 8 में से 6 संकेतकों में सुधार किए हैं। जीसीसी सम्मेलन में अबु सु;लेमा’न ने कहा है कि सऊदी अरब मूल रूप से महिला स’शक्तीक’रण के मामले में आगे बढ़ रहा हैं।

Leave a Comment

close