सानिया मिर्ज़ा ने रचा इतिहास, माँ बनने के बाद 42 वा डबल्स ख़िताब जीतकर दिखाया दम

सानिया मिर्जा देश ही नही बल्कि विदेश में भी टेनिस कोर्ट में भारत का नाम रोशन कर चुकी है । सानिया एक मशहूर और बेहतरीन टेनिस खेलने वाली महिला रही है। बीते 2 सालों तक टेनिस कोर्ट से दूर रही सानिया ने एक बार फिर टेनिस कोर्ट में धमाकेदार वापसी की है । बता दे, शादी पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से हुई थी। इन्होंने माँ बनने के बाद पहली बार खिताब जीता है। इस मामले में सानिया एक बार फिर सुर्खिया बटौर रही हैं।

बता दे कि भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने यूक्रेन की नादिया के साथ ही होबार्ड इंटर नेशनल महिला युगल का खिताब जीता है। सानिया ने बहुत ही शानदार खेल खेला था।सानिया के करियर का यह 42वां डब्ल्यूटीए डबल्स खिताब है। नादिया के साथ मिलकर सानिया ने झांग झूँगाई और पेंग शुआई की जोड़ी को एक घण्टे और 21 मिंट तक चले मुकाबले में 6-4 6-4 से हराकर इंटरनेशनल का खिताब अपने नाम किया हैं।

सानिया और नादिया ने पहले गेम में ही चीनी खिलाड़ियो की सर्विस तोड़ी। लेकिन अगले गेम में उन्होंने सर्विस गवा दिया। दोनो जोड़ियों के बीच इसके बाद 4-4 तक करीबी मुकाबला देखने को मिला।सानिया और नादिया ने 9गेम में ब्रेक प्वाइंट किया। जिसके बाद उन्होंने आसानी से पहला सेट अपने नाम किया।

सानिया ने 2017 में आखरी टूर्नामेंट खेला था। सानिया को 6 बार की ग्रैंडस्लैम विजेता रह चुकी है। उन्होंने 2013 में एकल टेनिस खेलना छोड़ दिया था। वह 2007 में डब्लूडीए एकल रैंकिंग में 27 वे स्थान तक रही थी।

Leave a Comment

close