मक्का और मदिना की मस्जिदों के सीनियर पदों पर सऊदी महिलाओं की हुई नियुक्ति,सऊदी सरकार ने कहा- आगे भी ….

आज का दौर महिलाओं के लिए अपने नाम के लिए आया है । हर देश मे अब महिलाए शिखर पर पहुँच रही है और हर काम जो मुमकिन ही नही ना मुमकिन हुआ करता था आज वो सब मुमकिन हो रहा है।सऊदी अरब के मक्का और मदीना मस्जिद में पहली बार महिलाओं की तैनाती हुई है। सऊदी अरब की सरकार की तरफ से ऐसा पहली बार हुआ है कि यहां पर महिलाओं को सबसे खास जिम्मेदारी सौपी गई है।

यह जानकारी सऊदी अरब प्रशासन ने प्रेस रिलीज के माध्यम से दी है। इन 10 महिलाओं की तैनाती प्रशसनिक और तकनीकी विभाग में हुई है। प्रेसीडेंट ने कहा है कि महिलाओं के नेतृत्व की स्थिति सम्भालने के लिए सशक्त बनाने एक महत्वपूर्ण काम है जो विकास और अर्थ व्यवस्था पर ध्यान रखता है।

saudi arabia women news

सऊदी सरकार के बयान के मुताबिक, सरकार ने यह कदम महिलाओं को उनकी क्षमता के मुताबिक काम देने के लिए उठाया है। इन 10 महिलाओं की तैनाती शीर्ष पदों पर हुई है। इससे पहले साल 2018 में 41 महिलाओ की तैनाती मध्यम वर्ग के पदों पे हुई है।

सऊदी अरब में अब और ज्यादा महिलाओं को हर क्षेत्र में छूट मिलने लगी है। सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमा न महिलाओं को आगे बढ़ाने की अपनी योजना के मुताबिक महिलाओं को कई तरह की छूट दे रहे है। क्राउन प्रिंस सलमान ने ही महिलाओं को अकेले गाड़ी चलाने की इजाजत दी थी।

saudi arabia women news

मोहम्मद सलामन की उस योजना के मुताबिके हो रहा है जिसे विजन 2030 कहते है। इस योजना के मुताबक मोहम्मद बिन-सलमान सऊदी अरब को तेल आधारित अर्थव्यवस्था से हटाकर अन्य सेवा आधारित अर्थव्यवस्था कीतरफ ले जाना चाहते है।

Leave a Comment