ये है 2021 का नया सऊदी अरब, दुनिया भर के पर्यटकों के लिए सऊदी अरब के खुलेंगे दरवाज़े, यूनेस्को की विश्व विरासत में ….

यूनेस्को द्वारा जारी किए गए हाल ही में सऊदी अरब के 6 जगह को विश्व विरासत सूची में जोड़ दिया गया है। इसके अलावा भी इससे पहले भी अन्य 5 जगह को भी शामिल किया हुआ है।हेरिटेज कमीशन के सीईओ डॉ जसिर अल हर्बिष ने कहा है कि हम इस असाधारण प्राचीज स्थल को यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में

मान्यता प्राप्त करने के लिए बहुत ही ज्यादा हैरान भी है। हम आपको इन 6 जगहो के बारे में बताने वाले है। जिसे हाल ही में यूनेस्को ने सूची में शामिल किया है।1. मदीह सालेह :- मदीह सालेह वो जगह है जिसे अल हिज्र या हेंगरा भी कहा जाता है। यूनेस्को द्वारा अपने विशाल ऐतिहासिक महत्व के लिए

saudi arabia world heritage list

विश्व धरोहर के रूप में इसको पहला स्थान मिला है। इसका जिक्र कुरान शरीफ में भी आया है। 2. अल तुरेफ़ में अल दरियाहn :- दरियाह का पुराण नाम शहर वादी हनीफा के तट पर स्थित था।यह सऊदी अरब का राष्ट्रीय प्रतीक का प्रतिनिधित्व भी करता है। 3.ऐतेहासिक जेद्दा

जेद्दा को साल 2014 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में भी मान्यता प्राप्त होने के बाद पिछले कई सालों से काफी ध्यान आकर्षित भी किया है। 4. हेल क्षेत्र में रोक कलाइस क्षेत्र में दो रेगिस्तानी घटक भी शामिल है। जुब्बा में जबल उम्म सिनमेने और शुवेमिस में जबल अल मन्जोर और रात भी शामिल है।

saudi arabia world heritage list

पहले इन दोनों के बीच एक झील भी थी। जो ग्रेट नारफ़ीड रेगिस्तान के दक्षिणी भाग में लोगो और जानवरों के लिए ताजा पानी का स्त्रोत हुआ करती थी। इनमे अल हस्स और हिमा क्षेत्र को भी शामिल किया गया है।

Leave a Comment