सऊदी किंग सलमान ने इन ख़ास 200 परिवारों को हज पर बुलाया और बनेंगे शाही मेहमान , दुनिया भर में हो रही तारीफ़

सऊदी अरब के दो पवित्र शहरों मक्का और मदीना में पूरी दुनिया से हाजियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है । भारत से भी हाजियों के जाने का सिलसिला लगातार जारी है । सऊदी सरकार दुनिया भर से पहुँच रहे हाजियों की खिदमत में कोई कमी नही रख रही है । सऊदी सरकार ने इस बार बड़ा बदलाव करते हुए दुनिया भर के हाजियों को मोबाइल , सिम कार्ड और डाटा भी उपलब्ध कराया है ।

इससे हाजियों को कई तरह की परेशानी से निजात मिल गई है । बता दे , इस साल से पहले दुनिया भर से जाने वाले हाजियों को सऊदी पहुँचने पर सिम कार्ड खरीदने पड़ते थे । सऊदी सरकार लगातार नया कार्य करती हुई लोगों के दिल जीत रही है । स ऊ दी अ र ब के किं ग मोहम्मद बिन सलमान के एक ओर फैसले से सभी हैरान है । बादशाह सलमान ने न्यूज़ीलैंड की मस्जिद में शहीद हुए परिवार वालों को हज के दौरान खास तोहफ़ा दिया है ।

मोहम्मद बिन सलमान ने इस परिवारों को शाही मेहमान बनाने का फैसला किया है , हज के दौरान यह ख़बर काफी संतोषजनक लगती है ।इस पूरे मामले की घोषणा सऊदी अरब के इस्लामिके मामलों के मंत्री शेख अब्दुल लतीफ अल असिख ने की । उन्होंने अपने एक बयान में कहा कि शहीद हुए परिवार के 200 सदस्य को हज की पवित्र यात्रा के लिए बुलाया गया है ।

सऊदी के इस्लामिके मंत्री ने इसे अच्छा कदम बताते हुए , उन्होंने कहा कि आ तं क वा द को हराना सऊदी अरब के प्रयासों का हिस्सा है और वह शहिद परिवार की मेजबानी करेगा । न्यूज़ीलैंड से आए यह खास 200 मेहमानो का शाही स्वागत होगा ।यह हज और उमराह अदा करेंगे ।

यह मक्का और मदीना के मस्जिदों में यह 200 मेहमान हज की अदायगी पूरी करेंगे । सऊदी मंत्रलाय ने इस बाबत न्यूज़ीलैंड से बात की और सऊदी दूतावास से संपर्क किया । न्यूज़ीलैंड के राजदूत जेम्स मुनरो ने सऊदी शासक की इस खास पहल का स्वागत करते हुए कहा कि हम सऊदी अरब के शुक्रिया अदा करते है । बता दे , इन 200 परिवारों को 1 मिलियन डॉलर की मदद भी शामिल की गई है ।

सऊदी के प्रिंस अलवलीद बिन तलाल ने कहा सऊदी किंग द्वारा यह कार्य सराहनीय है । इस कार्य को न्यूज़ीलैंड द्वारा भी स्वागतकिया गया है और सऊदी की तारीफ की गई है। 1 मि लि यन धनराशि को शहीद के परिवार वालो के लिए सार्थक भी बताया है । सऊदी अरब में मौजूद न्यूज़ीलैंड के राजदूत मुनरो ने कहा कि वह न्यूज़ीलैंड मस्जिद ह म ले के आ रो पि यों को एक मंच से नाम लेने से बचेंगे और उसका प्रचार प्रसार नही करेंगे ।

उन्होंने कहा कि वह शहीद परिवारों का ध्यान रखेंगे और उन शहीदों को भी याद रखेंगे । बता दे , सऊदी द्वारा न्यूज़ीलैंड ह म ले में श हीद हुए परिवारों को शाही मेहमान बनाने की घोषणा के बाद सऊदी किंग सलमान की तारीफ हो रही है । वही हज के इस मुकद्दस मौक़े यह 200 मेहमान हज या उमराह भी अदा करेंगे ।

Leave a Comment

close