सऊदी किंग सलमान ने इन ख़ास 200 परिवारों को हज पर बुलाया और बनेंगे शाही मेहमान , दुनिया भर में हो रही तारीफ़

Spread the love

सऊदी अरब के दो पवित्र शहरों मक्का और मदीना में पूरी दुनिया से हाजियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है । भारत से भी हाजियों के जाने का सिलसिला लगातार जारी है । सऊदी सरकार दुनिया भर से पहुँच रहे हाजियों की खिदमत में कोई कमी नही रख रही है । सऊदी सरकार ने इस बार बड़ा बदलाव करते हुए दुनिया भर के हाजियों को मोबाइल , सिम कार्ड और डाटा भी उपलब्ध कराया है ।

इससे हाजियों को कई तरह की परेशानी से निजात मिल गई है । बता दे , इस साल से पहले दुनिया भर से जाने वाले हाजियों को सऊदी पहुँचने पर सिम कार्ड खरीदने पड़ते थे । सऊदी सरकार लगातार नया कार्य करती हुई लोगों के दिल जीत रही है । स ऊ दी अ र ब के किं ग मोहम्मद बिन सलमान के एक ओर फैसले से सभी हैरान है । बादशाह सलमान ने न्यूज़ीलैंड की मस्जिद में शहीद हुए परिवार वालों को हज के दौरान खास तोहफ़ा दिया है ।

मोहम्मद बिन सलमान ने इस परिवारों को शाही मेहमान बनाने का फैसला किया है , हज के दौरान यह ख़बर काफी संतोषजनक लगती है ।इस पूरे मामले की घोषणा सऊदी अरब के इस्लामिके मामलों के मंत्री शेख अब्दुल लतीफ अल असिख ने की । उन्होंने अपने एक बयान में कहा कि शहीद हुए परिवार के 200 सदस्य को हज की पवित्र यात्रा के लिए बुलाया गया है ।

सऊदी के इस्लामिके मंत्री ने इसे अच्छा कदम बताते हुए , उन्होंने कहा कि आ तं क वा द को हराना सऊदी अरब के प्रयासों का हिस्सा है और वह शहिद परिवार की मेजबानी करेगा । न्यूज़ीलैंड से आए यह खास 200 मेहमानो का शाही स्वागत होगा ।यह हज और उमराह अदा करेंगे ।

यह मक्का और मदीना के मस्जिदों में यह 200 मेहमान हज की अदायगी पूरी करेंगे । सऊदी मंत्रलाय ने इस बाबत न्यूज़ीलैंड से बात की और सऊदी दूतावास से संपर्क किया । न्यूज़ीलैंड के राजदूत जेम्स मुनरो ने सऊदी शासक की इस खास पहल का स्वागत करते हुए कहा कि हम सऊदी अरब के शुक्रिया अदा करते है । बता दे , इन 200 परिवारों को 1 मिलियन डॉलर की मदद भी शामिल की गई है ।

सऊदी के प्रिंस अलवलीद बिन तलाल ने कहा सऊदी किंग द्वारा यह कार्य सराहनीय है । इस कार्य को न्यूज़ीलैंड द्वारा भी स्वागतकिया गया है और सऊदी की तारीफ की गई है। 1 मि लि यन धनराशि को शहीद के परिवार वालो के लिए सार्थक भी बताया है । सऊदी अरब में मौजूद न्यूज़ीलैंड के राजदूत मुनरो ने कहा कि वह न्यूज़ीलैंड मस्जिद ह म ले के आ रो पि यों को एक मंच से नाम लेने से बचेंगे और उसका प्रचार प्रसार नही करेंगे ।

उन्होंने कहा कि वह शहीद परिवारों का ध्यान रखेंगे और उन शहीदों को भी याद रखेंगे । बता दे , सऊदी द्वारा न्यूज़ीलैंड ह म ले में श हीद हुए परिवारों को शाही मेहमान बनाने की घोषणा के बाद सऊदी किंग सलमान की तारीफ हो रही है । वही हज के इस मुकद्दस मौक़े यह 200 मेहमान हज या उमराह भी अदा करेंगे ।

Leave a Comment

close