सऊदी शख्स की कुरआन पाक से मोहब्बत देखिये, 8 साल में कुरान की आयतों को संगमरमर के 30 स्लैब में तराशा, दुनिया भर से देखने …

सऊ’दी अरब की हर चीज निराली है। इस्लाम धर्म को मानाने वाले मुस्लि’म समुदाय की सबसे अहम और पाक किताब कुरआ’न श’रीफ है। जिसमे कुल 30 पारे होते है । इस किताब को सभी मुस’लमा’न पढ़ते भी है, यह अरबी में सहित कई भाषा’ओं में भी है। एक सऊदी मूर्तिकार ने 30 संगमरमर स्लैब पर कु’रान श’रीफ की कई आयतो को तराशने में पूरे 8 साल बिताए है।

उम्मीद की जा रही है कि उनके इस कारनामे को गिनीज वर्ल्ड रिकॉ’र्ड्स में भी दर्ज कि’या जाएगा। इस कला के लिए हुस्न बन अहमद अल एनिजी का यह जुनून 20 साल पहले अरबी भाषा में रुचि विकसित करने के बाद शुरू हुआ था। उन्होंने तबुक क्षेत्र में ब्लॉकों और ग्रेनाइट पर बसमला का एक पत्थर का वि श्वकोश भी बनाया है।

saudi sculptor spends

बता दे किइस कलाकर ने पूरे राज्य में आयोजित कई शिल्प कार्यक्रम और समारोह में भी भाग लिया है। उनका उद्देश्य कला में युवाओं को प्रशिक्षित करने और सऊदी मूर्तिकार की अगली पीढ़ी का उत्पादन करने के लिए भी एक केंद्र को स्थापित भी किया है।

अल एनिजी ने हरे संगमरमर के स्लैब पर कुरान लिखने के लिए ओटोमन सुलेख का भी इस्तेमाल किया है। इसके साथ ही उन्हीने कहा है कि उत्तरी आश्चिमी सऊदी अरब में ताबुक क्षेत्र, अपने कई महल और महलों के साथ, शदियो से कलाकरों को भी प्रेरित करता है।

saudi sculptor spends

इसके अलावा अल एनिजी ने उल्लेख किया है कि सऊदी सर’कार से विरासत आयोग की स्था’पना के मा’ध्यम से मूर्तिक’ला और अन्य पारंप’रिक कला और शिल्प को जीवित रखने में भी उन्होंने मदद की है।

Leave a Comment