पैग़म्बर मोहम्मद (स.अ.व.) ने फ़रमाया, शब ए बारात में इन 6 लोगों को छोड़कर सबकी म’गफिरत होगी,फ़ज़ीलत जानिए

सभी भाइयो और बहनों अ’स्स्सलामु अलैकुम। आज हम आपको मा’ह ए शाबा’न की फ़’ज़ीलत के बारे में बताइयेगे। माह ए शाबान की 15 वी रा’त का नाम शब ए ब’रात यानी नि’जात वाली रात है। इस मुबारक रात के चार नाम है, पहली है निजात वाली रात, दूसरी है रहम’त वाली रात, तीसरी है बरक’त वाली रात, चौथी है परवा’ना मिलने वाली रात। कु’रान श’रीफ मे अल्ला’ह तबा’रक व त’आला फरमाता है ।

“इस रात मे बाँट दिया जाता है हर हि’कमत वाला काम “( यानी इस रात हर हि’कमत वाला काम हमारे हुक्म से बाँट दिया जाता है ) – पारा 25,आयत 4, रूकु14 । हदीस 1 ) हज’रत ओ’saमा बिन जैद ने नबी ए क’रीम मु’हम्मद ए मु’स्तफा से पुछा या रसूलु’ल्लाह जितना मै आपको शाबान के महि’नेए रो’जे रखते हुए देखता हु उतना किसी ओर मे नही देखता , तो आप ने फरमा’या र’जब ओर रम’जान के बीच शा’बान एक ऐसा महीना है ।

जिसमे लोग गफ’लत बरतते है ये एक ऐसा म’हीना है जिसमे कि इस महीने मे लोगो के आ’माल अ’ल्लाह रब्बुल आल’मीन के सा’मने पेश किये जाते है तोऐ चाहता हु कि मेरे आमाल जब पैश हो तो मै रो’जे से रहु “- सुन’न नहाई हदीस ; 2359 । हदीस 2 ) हजर’त आ’एशा ‘raji अ’ल्लाहु अन्हा से रिवायत है कि, नबी ए करी’म मुह’म्मद ए मु’स्तफा ने फरमाया कि ” ये शाबान की 15 वी रात है ओर इस मे अल्ला’ह तआ’ला ज’हन्नु’म से इतनो को आ’जाद फरमाता है ।

जितने ब’नी क’ल्ब की ब’करियो के बाल है म’गर का’फिर ओर अदा’वत वाले ओर रि’श्ता का’टने वाले ओर कपडा लटकाने वाले,वा’लिदेन की ना’फरमानी करने वाले ओर शराब के आदि की नजर न’जरें रह’मत नही फ’रमाता ” – शोए’बुल ईमान जी.3 स.384 हदी’स – 3837 । हदीस 3 ) हज’रत मुफ्स’सिरि’न कि’रा’म फ’रमा’ते है , अ’ल्ला’ह त’बारक व’ताआला सा’ल भर मे होने वाले वाले तमा’म का’मों ( वाक्या’त , हदीसा’त ) के अह’का’म फरि’श्तो मे तक’सीम फर’मा देता है।

रि’ज्क , मौ’त, न्जि’दगी ,इ’ज्जत,जि’ल्लत , जल’जले, आ’समानी अ’जाब, सैला’बी सूर’ते,प’रेशानी बाकी ओर भी सभी काम जो साल भर होगें,वह मला’यका मे उनकी ड्युटी के मुताबिक तक’सीम फरमा देता है साथ ही तमा’म इन्त’जामी उ’मुर ( हुक्म )लौ’ह ए मुह’फुज से फरि’श्ता के सही’फो मे न’क्ल करके हर एक सहीफा उस मह’कमे के फरि’श्ता को दे दिया जाता है। जैसे मली’कुल मौ’त को तमाम म’रने वालो की फे’हरीस्त व अह’काम व’गैरह दे दिये जाते है।

Leave a Comment

close