श्रीलंका में मु’स्लिमों पर हुए ह’म’ले में नया मोड़, दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कम्पनी ने मां’गी मु’स्लिमों से मा’फ़ी,कहा- उस घ’ट’ना के

दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा द्विप श्रीलंका हमेशा से ही चर्चा में रहा है। बीते दिनों मु’सल’मा’नों और म’स्जि’दों पर ह’म’ले के बाद वहां पर आपा’त’काल लागू भी कर दिया गया था।श्रीलंका में 2012 से ही सा’म्प्र’दा’यि’क त’ना’व की स्थि’ति बनी हुई है। कहा जाता है कि एक क’ट्ट’र’पं’थी सं’ग़’ठ’न उस तनाव को बार बार हवा देता रहा है। श्रीलंका की आबादी दो करोड़ दस लाख के करीब है और इसमें 70 फीसदी बौध्द है और 9 फीसदी मु’स’ल’मा’न है ।

बीते दिनों ही फेसबुक ने श्रीलंका के 2018 के मु’स्लि’म वि’रो’धी दं’गो में अपनी भूमिका के लिए मा’फी मां’गी है। क्योकि एक जांच में पाया गया है कि फेसबुक पर मु’स्लि’म वि’रो’धी पोस्ट से हिं’सा के मामले सामने आए थे। बता दे कि 2018 के शुरुआत में श्रीलंका में दं’गे भड़”क उठे क्योंकि मु”स्लि’म विरो”धी गु’स्सा सो’श’ल मी’डि,या पर फू’टा था।

हालांकि सर’का’र ने वहां पर आपा”तकाल लागू करने और फेस”बुक को ब्लॉक कर दिया था। टे’क्निक’ल कम्प’नी ने अपने जांच’क’र्ताओं ने कहा कि फेस”बुक पर भ’ड़’का”ऊ पोस्ट से मु’स’लमा’नों के खि’ला’फ हिं’सा हो सकती है। फे’स’बु’क ने ब्लू’म’ब’र्ग न्यूज़ को दिए एक बयान में कहा कि ह’मने एक प्लेट’फार्म के दुपयोग के क’म किया है । हम पहचानते है और मा’फी मां’ग’ते है।

2018 के इस दं’गे में कम से कम 3 लोग मा’रे गए थे और 20 लोग घायल हो गए थे। इस दौरान वहां की म’स्जिदों को भी ज’ला दिया गया था। आ’र्टि’कल वन की रिपोर्ट के अनुसार, श्रीलंका में फेसबुक के 4.4 मिलियन रोजाना के उपयोगकर्ता है। फर्म ने कहा है कि हमने मान’वाधि’कारो के सिक्युरिटी के लिए पिछले दो वर्षों में कई कदम उठाए’ है।

फेस’बुक ने बयानों के साथ मे कहा है कि श्रीलंका में हम अक्सर रिजेक्टे’ड मेसे’जों के बांटने को क’म’ कर रहे है। जो अ’क्सर ग’ल’त सूचनाओं से जुड़े हुए रहते है। फेसबुक पर दुनिया का सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेट फॉर्म के रूप में गिना जाता है । आज फेस’बुक का विस्तार दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है ।

Leave a Comment

close