तालिबान ने तुर्की को दी आखिरी चेतावनी, कहा- जल्द से जल्द खाली करो अफगानिस्तान

तालि’बा’न ने तु’र्की को अफ’गा’निस्ता’न में अपनी उपस्थिति बढ़ाने को लेकर अंतिम चे’ता’वनी भी दी है। अमेरि’का के नेतृत्व वाली गठबंधन से’ना’ओं के अफ’गानि’स्ता’न को छोड़ने के बाद अब तुर्की काबुल एयरपोर्ट की जिम्मे’दारी उठाने भी जा रहा है। यही वजह है कि तु’र्की देश के पास

करीब 100 सैनिक अब भी अफ’गानि’स्तान में तैना’त रहेंगे। इसी को लेकर तालि’बान ने कहा है कि तु’र्की का यह निर्णय गलत है। उन्होंने कहा है कि यह हमारी क्षेत्र की उ’ल्लं’घन है। यह हमारे राष्ट्री’य हितों के खि’ला’फ है। तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान ने अपने पिछले बयान में कहा था कि

taliban recep tayyip erdogan

तु’र्की और अमे’रिका देश इस बात पर सहमत है कि अ’फगानि’स्ता’न से यू’एस फोर्सेज की वापसी के बाद का’बुल हवा’ई अ’ड्डे को तु’र्की की से’ना के नियं’त्रण में भी रखा जाएगा। अमेरिका से अपने सम्बन्धो को सुधारने की कोशिश के तौर पर एर्दोगान ने अगले महीने से’नि’को’ की जा’ने के बाद

का’बुल हवाई अड्डे के लिए सु’र’क्षा प्र’दान करने का भी वादा किया है।तालि’बान ने ए’र्दोगा’न के इस प्रस्ताव का वि’रो’ध करते हुए कहा है कि तु’र्की को भी साल 2020 के इस समझौते के अनुरूप ही अपने ‘सैनि’कों’ को भी वापस बुलाने चाहिए। इससेपहले भी ता’लि”बान के प्र’वक्ता सुहै’ल

taliban recep tayyip erdogan

शाहीन ने तु’र्की को अपनी से’ना वापस बुलाने को लेकर चे’ता’व’नी भी दी है। बीबीसी से बात करते हुए शाहीन ने कहा था कि अमे’रिका’ के साथ 29 फरवरी,2020 को हुए सम’झौ’ते के तहत नि’श्चित रूप से अपनी से’ना को वा’पस बुलाना भी चाहिए।

Leave a Comment