दुनिया में सबसे ज्यादा शरणार्थियों को पनाह देने वाला देश तुर्की का बड़ा बयान, बोले एर्दोगन- अब नहीं उठा सकता …

तु’र्की के राष्ट्र’पति तै’यब एर्दो’गा’न ने ता’लिबा’न द्वारा सत्ता को अपने क’ब्जे में लेने के बाद अ’फ’गानि’स्तान के वर्त’मान हाला’तो को लेकर चिं’ता जताते हुए कहा है कि तु’र्की अफ’गानि’स्तान से आने वा’ले नए शर’णा’र्थियों का बो’झ न’ही उठा सकता है हालां’कि उन्हों’ने यह भी कहा है कि तु’र्की अफ’गा’नि’स्तान

में अपनी उप’स्थिति को बनाए भी रखेगा। बता दे कि तु’र्की ने एक छोटे त’कनी’की स’मूह को छोड़कर अफ’गानि’स्ता’न से अपने सभी ना’गरिकों और सैनिकों को निका’ल भी लिया। वीते दिनों हीमो’न्टेने’गरी से वा’पस उड़ा”न पर तु’र्की मी’डिया के साथ एक इंट’रव्यू में कहा है कि कबू’ल में तु’र्की

turkey maintain diplomatic

दू’ता’वास से दो स’प्ता’ह के लिए ह’वाई अड्डे से संचलन के बाद शहर में अपनी इमारत में स्थानांतरित हो भी गया था। ब्रॉडकास्ट एनटीवी से उनके हवाले से भी कहा गया है कि वो दूसरे दिन ही सिटी सेंटर में हमारे दूता’वास की इ’मारत में लौ’ट भी आए और वो यहां से अप’नी गति’विधि’यों

जारी भी रखे हुए थे। उन्होंने कहा है कि हमारी योज’ना अब इस तरह से अपनी राजन’यि’क उप’स्थिति बनाए रखने की है। तु’र्की द्वारा का’बु’ल हवा’ई अ’ड्डेके सं’चालन में अपने कदम पीछे लेते हुए उन्होंने कहा है कि हम आप’को सु’र’क्षा कैसे दे सकते है। अगर आ’पने

turkey maintain diplomatic

सु’र’क्षा को संभाल ली और वहां एक और खून’ख’राबा हुआ तो हम इस दु’निया को कै’से स’म’झ एगे। बता दे कि ता’लि’बान ने तु’र्की’ और क’तर से काबुल ए’यरपोर्ट के सन्चा’लन के लिए मदद भी मांगी ह। तु’की इससे इन’कार भी कर चुका है।

Leave a Comment