एर्दोगन ने अरब देशों को सुनाई खरी खोटी, बोले- चुप रहोगे तो शै’तान का’बे में घुस जायेगा

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान ने एक बार फिर अ’मेरिका के खि’लाफ खुलकर अपनी राय का इजहार किया है और कड़े शब्दों में चे’ताया भी है । तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय’ब एर्दो’गान ने दरअसल अमेरि’का की तरफ से की जाने वाले डी’ल ऑफ द सेंचुरी पर जमकर ल’ताड़ लगाई है। उन्होंने इस डील को मा’नने से इनकार करते हुए कहा कि ये पूरी तरह से फिलि’स्तान के लोगों के साथ धो’खा है ।

उन्होंने कहा कि वो पूरी तरह से फिलि’स्तीन के साथ ही । एरदो’गन ने ये भी कहा कि बैतूल मुक्क’dस मु’स्लिमों का है, इस पर मु’स्लिमों के अलावा किसी का अधि’कार नहीं है । बता दे, डील ऑफ द सेंचु’री इस सदी की अमेरिका की तरफ़ से सबसे बड़ी डील मानी जा रही है। जिसमे उन्होंने येरु’शलम को इजरा’इल की राज’धानी बना’ने का प्रस्ताव पेश किया है।

इस डील में ओमान, बहरीन, यूईए 3 देशो की सर’कार ने ट्र’म्प का सहयोग किया है। इसका वि’रोध फिलि’स्तीन ,तु’र्की सहित कई देशों ने भी किया है। अमे’रिका ने बीते साल 12 मई 2019 को तेल अवीव में अपना दू’तावास खोला था। तभी से मा’मले बिग’ड़ जाने की ख’बरे सामने आ रही थी ।

एर्दो’गान ने कहा कि ट्रम्प द्वारा वाइ’ट हा’उस में हुई बैठक में तीन देशो के राज’दूतों की उ’पस्थिति हुई थी। उन्होंने अं’कारा में न्याय और वि’कास पार्टी’ के प्रांती’य प्र’मुखों के बै’ठक के कहा कि हम फिलि’स्तानी ज’मीनों पर कब्जा’ करने के उ’द्देश्य से इस सम’झौते को कभी भी स्वी’कार नही करेंगे। एर्दो’गान ने कहा कि वहाँ पर मु’सलमा’नों और ई’साइयों के प’वित्र स्थल है ।

और उन्होंने इस प’वित्र स्थल पर प्रका’श डालते हुए कहा कि ट्रम्प के डील ऑ’फ द सेंचु’री के खिलाफ आ’वाज उठाने का आग्रह किया है। येरुशल’म एक रे’ड लाइन है। तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि फिलि’स्तानी और येरु’शलम का मु’द्दा सभी मुसल’मानों के लिए एक मुद्दा है। उन्होंने कहा कि आप कब उनके लिए आवाज उठाएंगे।

Leave a Comment

close