एर्दोगन की मेहनत रंग लाई, तुर्की को मिली बड़ी कामयाबी, तुर्की की मदद से दुनिया के नक्शे पर दिखेंगे 2 नए देश

ऐसे तो तु’र्की देश हर देश की मदद करने के लिए आगे आये रहते है और तु’र्की देश को एक शुरुआती कोई भी पहल के रूप में भी जाना जाता है।हालही में तु’र्की के साइप्रस नेता एरसिन तातार ने बीते दिनों ही सँयुक्त राष्ट्र सु’रक्षा परिषद में दो स्वतंत्र राज्यो को विभा’जित भू’मध्य’साग’रीय द्वीप पर तुर्क और

साइप्रस के बीच दर्श’कों पुराने वि’वा’द के रूप में मान्यता देने का आहान भी किया है। तातार ने एक सँयु’क्त राष्ट्र प्रमुख एं’टोनि’यो को सोपे गए एकदस्ता’वेज में प्रस्ताव भी रखा गया है।बता दे कि सुर’क्षा परि’षद द्वारा एक संक’ल्प को अप’नाने के लिए एक आहान भी किया गया है।

turkish cyprus

जिसमे समान अंत’रास्ट्रीय स्थिति और दोनों पक्षो की सम्प्रभु समानता भी सु’रक्षि’त है।इस प्रस्ताव में कहा गया है कि ऐसा प्रस्ता’व दोनों मौजूदा राज्यो के बीच एक सहकारी सम्बन्ध की स्थापना के लिए नया आधार तैयार भी करेगा। यह उन रूपरे’खा भी तैयार करेगा।

जिन्हें कई तरह के संक’ल्प अपनाने की भी बहुत ज्यादा आ’वश्यक है।इसमें कहा गया है कि जहां पर बातचीत को तु’र्की, ग्री’स’ और ब्रि’टेन के साथ साथ जहां पर सही हो। यूरो’पीय सं’घ के रूप में भी इसका समर्थन करेगा।

turkish cyprus

इसके आगे कहा कि किसी भी सम’झौते के संदर्भ में दोनों राज्य एकदुसरे को भी पह’चानें। तु’र्की, ग्री’स और ब्रिटे’न इसका स’मर्थन भी करेंगे। साइप्रस को साल 1974 से विभा’जित भी किया गया है। ग्री’स द्वारा समर्थित ग्री’स सैपरि’ट प्रशासन, 2004 में यूरोपी’य सं’घ का भी सदस्य रहा है।

Leave a Comment