मुसलमानों ने Wasim Rizvi को इस्लाम से निकाला, कहा- न तो कही दफन होने देंगे और न जनाजे की नमाज पढ़ने देंगे

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिज’वी ने सुप्रीम कोर्ट में कुरान की 26 आय’तों को हटा’ने से सम्ब’न्ध्ति एक याचिका दा’खिल भी की है। रिज’वी ने इसके साथ ही कुछ आय’तों को आतंक’वाद को ब’ढ़ावा देने वाली बात भी कही है।

कुरान पाक एक सच्ची कि’ताब है। जो मुस्लि’मों के लिए एक सबसे बड़ी कि’ताब है। इसको लेकर वसीमा रिज’वी के बयान के बाद मुस्लि’मो को आक्रो’श बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है।शि’याने हैदर ए कर्रार वेलफेयर एसो’सिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हसनैन जा’फरी डम्पी ने कहा है कि

wasim rizvi

वसीम रिजवी का सि’र का’टकर लाने वाले को20 हजार रुपए इ’नाम देने की भी घोषणा की है।इसके अलावा डम्पी ने कहा है कि पैग’म्बर मो’हम्मद का कल’मा पढ़ने वाले और शि’या घर पै’दा होने के नाते मैं वसीम रिज’वी के कृ’त्य की निं’दा भी करता हूं।

उन्हीने आगे कहा है कि जो लोग वसीम रिजवी को अपने’ घर कार्य’क्रमों में बुल’वाएँगे उन लोगो का भी बॉयका’ट किया जाएगा। इसी तरह मौलाना खालिद र’शिद ने उत्तर प्रदे’श स”रकार से रि’जवी पर स’ख्त कार्यवा’ही की मांग की है ।

wasim rizvi

मौला’ना क’ल्वे ज’व्वाद का कहना है कि वसीम रिजवी य’जीद का वंश’ज है । इसी तरह’शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने कहा है कि कु’रान से एक भी ह’र्फ भी नही हटा’या जा सकता है।

Leave a Comment